लेहरोदेवी को पेंशन,अनाथ भारूराम को मिला पालनहार का सहारा
बाड़मेर।
जिले की 17 पंचायत समिति मुख्यालयांे पर शुक्रवार को आयोजित हुए पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण शिविर ग्रामीणांे के लिए वरदान साबित हुए। शिविरांे के दौरान जन प्रतिनिधियांे एवं अधिकारियांे ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए कई प्रकरणांे का मौके पर निस्तारण कर आमजन को राहत पहुंचाई।
बाड़मेर पंचायत समिति की शिवकर ग्राम पंचायत मंे लेहरो देवी ने शिविर मंे उपस्थित उपखंड अधिकारी एच.आर.मेहरा एवं विकास अधिकारी नवलाराम चौधरी को फरियाद सुनाई कि वह पिछले 13 साल से विधवा पेंशन के लिए प्रयास कर रही है। लेकिन उसकी पेंशन स्वीकृत नहीं हो पा रही है। इसका एक पुत्र लालाराम भी दिव्यांग है। उसको भी पेंशन नहीं मिल रही है। इस मामले पर संवेदनशीलता दिखाते हुए उपखंड एवं विकास अधिकारी शिविर मंे ही लेहरोदेवी को विधवा पेंशन एवं दिव्यांग लालाराम पुत्र नाथूराम को विकलांग पेंशन मंे लाभांवित करने की स्वीकृति जारी कर दस्तावेज सुपुर्द किए। पेंशन संबंधित दस्तावेज पाकर लेहरोदेवी बेहद खुश हुई। उसके मुताबिक उसके परिवार का गुजारा आसानी से चल सकेगा। लेहरोदेवी को विधवा पेंशन के रूप मंे प्रति माह 500 रूपए तथा उसके पुत्र लालाराम को भी प्रति माह 500 रूपए मिलेंगे। सिणधरी पंचायत समिति की अरणियानी महेचान ग्राम पंचायत मंे आयोजित पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण पंचायत शिविर मंे विकास अधिकारी हीराराम कलबी के समक्ष अनाथ बालक भाउराम की पेंशन बंद होने संबंधित प्रकरण आया। इस पर विकास अधिकारी कलबी ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए मौके पर ही पालनहार योजना का आवेदन भरवाकर स्वीकृति जारी कराई। अनाथ भारूराम पुत्र नृसीगाराम मेघवाल को प्रति माह अब 1000 रूपए मिलेंगे। विकास अधिकारी हीराराम कलबी ने बताया कि इस बालक के लिए आगामी सत्र से समाज कल्याण विभाग के छात्रावास मंे शिक्षा की व्यवस्था करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए गए है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top