मेल सर्जिकल, फिमेल सर्जिकल, पीएनसी व एआरटी सेन्टर ने डा. खत्री का अभिनंदन
बाड़मेर। 
व्यक्ति और व्यक्तित्व एक सिक्के के दो पहलू है। जो अलग होते हुये भी एक दूजे से जुड़े रहते है। व्यक्ति अपने आचार, विचार और व्यवहार से ही अपने व्यक्तित्व का निर्माण करता है। अपने व्यक्तित्व से ही वह अन्य लोगों के दिलों में अमीट छाप छोड़ता है। डा. गौरी शंकर खत्री ने मृदु स्वभाव एवं अपने व्यक्तित्व से ही आमजन के दिलों में जगह बनाई। यही कारण रहा कि लगातार 31 वर्षों तक इसी राजकीय चिकित्सालय में वह चिकित्सालय परिवार का एक विशेष हिस्सा बन गये। यह बात राजकीय चिकित्सालय के कार्यवाहक प्रमुख चिकित्साधिकारी डा. बी.एल. मसूरिया ने डा. गौरी शंकर खत्री के विदाई समारोह में आयोजित स्नेहमिलन कार्यक्रम के तहत् कही। कार्यक्रम का आयोजन मेल सर्जिकल वार्ड, फिमेल सर्जिकल वार्ड, पीएनसी यूनिट एवं एआरटी सेन्टर के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया था। 
एआरटी सेन्टर के नोडल अधिकारी डा. हनुमानराम चौधरी ने कहा कि मरीजों को आपातकाल में जीवनदान देने वालों में डा. खत्री ने अनुकरणीय कार्य किये है। प्रायः आपातकालिन सेवाओं के दौरान अपनी कार्यशैली एवं तत्परता से कई मरीजों का तुरन्त उपचार कर निदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। सर्जरी विभाग के डा. सुरेन्द्रसिंह चौधरी ने कहा कि परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत् दो हजार नसबन्दी केम्पों के जरिये पच्चास हजार से भी अधिक ऑपरेशन कर हजारों मरीजों को लाभान्वित करने का गौरवमयी कार्य किया है। डा. देवेन्द्र सिंह व डा. खेताराम सोनी ने कहा कि डा. खत्री एक वरिष्ठ साथी और सहयोगी के रूप में हमेशा साथ रहे है। जिनकी कमी इस अस्पताल को सदा महसूस होगी। 
डा. खत्री का हुआ सम्मान: इस अवसर पर मेल सर्जिकल वार्ड के मेलनर्स प्रभारी गंगाराम चौधरी, प्रताप खत्री, बंशीलाल अहम्पा, फिमेल सर्जिकल वार्ड के मेलनर्स प्रभारी राणाराम माली, मोहनसिंह राठौड़, पीएनसी यूनिट के मेलनर्स प्रभारी अशोक कुमार जांगिड़ व एआरटी सेन्टर के डाटा मैनेजर अबरार मोहम्मद, स्टाफनर्स महादानसिंह राजपुरोहित, फार्मासिस्ट उम्मेदसिंह, काउन्सलर अनन्त सचान, नरेन्द्र कुमार खत्री, एलटी प्रकाशचन्द्र, सीसीसी दिनेश कुमार शर्मा, पीपीटीसीटी काउन्सलर श्रीमती शान्ति चौधरी ने डा़ गौरी शंकर खत्री को साफा व माला पहनाकर अभिनन्दन किया तथा सेवानिवृति पर विदाई स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन एवं आभार एआरटी सेन्टर के डाटा मैनेजर अबरार मोहम्मद ने किया। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top