उन्नत जीवन के लिए संस्कार व ज्ञान जरूरी:- साध्वीश्री
बाड़मेर। 
स्थानीय गुणसागरसूरि साधना भवन में श्री अचलगच्छ युवक परिषद के तत्वावधान में शनिवार को पांच दिवसीय श्री आर्यगुण समयश्री संस्कार शिविर का उद्घाटन कार्यक्रम परम् पूज्य साध्वीश्री प्रशांतगुणाश्री जी म.सा., लक्षगुणाश्री, हर्षितगुणाश्री, रजतगुणाश्री, जिनागमगुणाश्री मं.सा. आदि ठाणा की पावन निश्रा, जैन श्रीसंघ अध्यक्ष एड़वोकेट सम्पतराज बोथरा के मुख्य आतिथ्य एवं अचलगच्छ जैन श्रीसंघ अध्यक्ष हनुमानचंद बोहरा की अध्यक्षता में आयोजित हुआ ।
शिविर संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने बताया कि दीपावली के अवकाश को देखते हुए शुक्रवार 22 अक्टुम्बर को साध्वी भगवन्तों की निश्रा में जैन समाज के 12 बर्ष से 22 वर्ष तक की आयुवर्ग के बच्चों के लिए पांच दिवसीय श्री आर्यगुण समयश्री संस्कार शिविर का उद्घाटन साध्वीश्री के मंगलाचरण से हुआ । तत्पश्चात् अखिल राजस्थान युवक परिषद के अध्यक्ष जेठमल वड़ेरा एवं चातुर्मास कमेटी अध्यक्ष प्रकाश बोहरा ने अतिथियों का तिलक, माला एवं श्रीफल भेंट कर स्वागत व अभिनन्दन किया । वहीं इस दौरान श्रावक जगदीश भाई पड़ाईयां ने सरस्वती वन्दना प्रस्तुत की । शिविर के बालक-बालिकाओं को आशीर्वाद देते हुए मुख्य आतिथ्य जैन श्रीसंघ अध्यक्ष एड़वोकेट सम्पतराज बोथरा ने कहा कि संस्कार शिविर के माध्यम से बच्चे समय का सदुपयोग करते हुए संसकार प्राप्त कर आचरण में उतारे । उन्होंनें कहा कि संस्कार विहीन मनुष्य जीवन पशु समान है, वहीं संस्कार मनुष्य जीवन का पहला आभूषण है । इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे अचलगच्छ जैन श्रीसंघ अध्यक्ष हनुमानचंद बोहरा ने कहा कि जीवन में दया ही धर्म का मूल है । जिसको लेकर अहिंसा को जीवन में धारण करते हुए जीव विराधना से बचना चाहिये ।
कार्यक्रम में अपने प्रवचन में साध्वीश्री हर्षितगुणाश्री म.सा. ने शिविर के उद्देश्यों, क्रियाकलापों एवं रीति-नीति के बारे में जानकरी देते हुए बच्चों को जीवन में राष्ट्र-प्रेम, स्वदेशी अपनाने, पंच महाव्रत को जीवन में उतारने सहित कई व्यावहारिक विषयों पर ज्ञान की बातें बताई । 
शिविर संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने पूजा संस्कार शिविर एवं चातुर्मास कमेटी के सहयोग से संचालित पांच दिवसीय शिविर में सैंकड़ों बच्चों को दी जाने वाली जैन धर्म की मूलभूत धार्मिक क्रियाओं के साथ-साथ स्वदेशी अभियान, अहिंसा और जीओ और जीने के सिद्धान्तों के बारे में विस्तार से जानकारी दी । कार्यक्रम के अन्त में अरूण वड़ेरा ने सभी अतिथियों एवं सहयोगी संस्थाओं का धन्यवा व आभार ज्ञापित किया । कार्यक्रम का संचालन संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने किया । शिविर के उद्घाटन कार्यक्रम में पन्नालाल बोहरा, जेठमल वड़ेरा, अरूण वड़ेरा, मदन बोहरा, संजय बोहरा, मुकेश बोहरा, प्रकाश बोहरा, जगदीश पड़ाईयां, बंशीधर जैन, समप्तराज पड़ाईयां, विकास सिंघवीं, हितेष बोहरा, सहित अचलगच्छ जैन श्रीसंघ, चातुर्मास कमेटी, अचलगच्छ युवक परिषद, महिला मण्डल एवं बालिका मण्डल व बड़ी संख्या में महिला-पुरूष, बच्चे उपस्थित रहे ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top