ग्रामीण स्वच्छता के महत्व को समझेः शर्मा
ग्रामीणों से स्वच्छ भारत मिशन में भागीदारी निभाने का आहवान
बाड़मेर।
ग्रामीण स्वच्छता के महत्व को समझें, गांव स्वच्छ रहेगा तभी सभी लोग स्वस्थ रहेंगे। ग्रामीणांे को स्वच्छ भारत मिशन मंे सक्रिय भागीदारी निभाते हुए अपने घर मंे शौचालय निर्माण करवाने के साथ उसका उपयोग भी सुनिश्चित करना होगा। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने शुक्रवार को उमरलाई मंे रात्रि चौपाल के दौरान यह बात कही।
जिला कलक्टर शर्मा ने कहा कि समय बदल गया है अब हमें भी बदलने की जरूरत है इसलिए अपने आसपास सफाई का विशेष ध्यान रखें। उन्हांेने ग्रामीणों को स्वच्छता के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि नागरिकों की भी जिम्मेदारी है कि वे कचरा सड़क पर बिखरने के बजाय किसी खास स्थान पर डालें। उन्हांेने कहा कि रात्रि चौपाल मंे अधिकतर प्रकरणांे का निस्तारण कर संबंधित पक्ष को राहत पहुंचाने का प्रयास किया जाता है। कई प्रकरण ऐसे भी आते हैं, जिनका निराकरण मौके पर नहीं हो सकता उन्हें वे अपने एवं उच्च स्तर पर निस्तारण करवाकर आमजन को राहत दिलाएंगे।
उन्हांेने कहा कि प्रत्येक शुक्रवार को ग्राम पंचायत मुख्यालय पर पं.दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण शिविरांे का आयोजन किया जा रहा है। उन्हांेने ग्रामीणांे को जागरूक होकर इन शिविरांे मंे अधिकाधिक समस्याआंे का समाधान करवाने एवं विकास योजनाआंे से लाभांवित होने की बात कही। जिला कलक्टर ने आमजन की बिजली-पानी और चिकित्सा संबंधी शिकायतों पर संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिकायतांे का निराकरण अपने स्तर पर करें, ताकि जनता को बेवजह परेशानी ना उठानी पड़े। जिला कलक्टर शर्मा ने रात्रि चौपाल एवं जन सुनवाई मंे उपस्थित अधिकारियांे को निर्देश दिए कि राजस्थान संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों के निस्तारण की प्रगति को अधिकारी स्वयं देखें और उनका प्राथमिकता से निस्तारण करें। उन्हांेने रात्रि चौपाल मंे आमजन से संबंधित समस्याओं की जन सुनवाई कर मौके पर ही अधिकारियो को निस्तारण करने के निर्देश दिए। इस दौरान ग्रामीणों की विभिन्न विभागों के अधिकारियों द्वारा राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। इससे पहले जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने भांडियावास मंे जन सुनवाई के दौरान आमजन की समस्याएं सुनी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top