भारत ने न्यूजीलैंड का सीरीज में 3-0 से किया सफाया, ये रहे जीत की हीरो
इंदौर
टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को इंदौर में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट में आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की घातक गेंदबाजी के दम पर 321 रन से हरा दिया है। इस जीत के साथ ही भारत ने सीरीज में न्यूजीलैंड का 3-0 से सफाया कर दिया है। भारत की तरफ से अश्विन ने मैच में 13 विकेट लिए। 
भारत ने अपनी दूसरी पारी चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 101) के शानदार शतक की मदद से तीन विकेट पर 216 रन पर घोषित की और न्यूजीलैंड के सामने 475 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा। न्यूजीलैंड की टीम एक बार फिर अश्विन के जाल में फंस गई और 44.5 ओवर में 153 रन पर घुटने टेक दिए। पहली पारी में 81 रन पर छह विकेट लेने वाले अश्विन ने दूसरी पारी में भी न्यूजीलैंड का पुलिंदा बांधते हुए 13.5 ओवर में 59 रन पर सात झटक लिए।
भारत ने दिन की शुरुआत बिना विकेट खोए 18 रन से की। कल के नाबाद बल्लेबाजों मुरली विजय (19) और पुजारा ने सतर्क शुरुआत की। विजय हालांकि पुजारा के साथ गलतफहमी का शिकार होकर रन आउट हो गए। पुजारा पहले तो तेज रन लेने के लिए राजी हुए लेकिन बाद में उन्होंने विजय को लौटा दिया और वह रन आउट हो गए। 
भारत ने पहले घंटे में 14 ओवर में सिर्फ 30 रन जोड़े। कल रन लेते हुए कंधे में चोट लगने के कारण रिटायर्ड हर्ट हुए गंभीर अपनी पारी को छह रन से आगे बढ़ाने उतरे। गंभीर ने कुछ आकषर्क शाट खेले जबकि पुजारा ने बायें हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट पर सीधा चौका जड़ा। भारत के 100 रन 27वें ओवर में पूरे हुए।
गंभीर ने भी बोल्ट पर तीन चौके मारे और फिर नीशाम की गेंद पर दो रन के साथ 54 गेंद में अपने करियर का 22वां अर्धशतक पूरा किया। गंभीर हालांकि इसके बाद पटेल की गेंद पर चौका जड़ने की कोशिश में शार्ट कवर पर गुप्टिल के हाथों में खेल गए। उन्होंने 56 गेंद का सामना करते हुए छह चौके मारे। पुजारा ने भी लंच से ठीक पहले 96 गेंद में श्रृंखला का अपना चौथा अर्धशतक पूरा किया।
दूसरे सत्र में भारत ने तेजी से रन जुटाए। कप्तान कोहली हालांकि पटेल की गेंद को स्वीप करने की कोशिश में पगबाधा आउट हुए। उन्होंने पुजारा के साथ तीसरे विकेट के लिए 60 गेंद में 48 रन जोड़े। इस पारी के दौरान श्रृंखला में 350 रन से अधिक बनाने वाले पुजारा और रहाणे ने इसके बाद सिर्फ 54 गेंद में 58 रन की अटूट साझेदारी की। भारत ने लंच के बाद 15 ओवर में 89 रन जोड़े।
पुजारा ने भी पिछले नौ टेस्ट के बाद अपना पहला शतक पूरा किया और भारत में उनका छठा और न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा शतक है। उन्होंने पिछला शतक पिछले साल अगस्त में श्रीलंका के खिलाफ लगाया था। इस श्रृंखला में पुजारा ने इससे पहले 62, 78, 87, 04 और 41 रन की पारियां खेली थी।
टीम इंडिया का तीसरा क्लीन स्वीप
भारत ने 3-0 के क्लीन स्वीप के साथ ही आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पोजिशन पर अपनी बादशाहत और भी मजबूत कर ली। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया है। इंडिया का पिछले चार सालों में टेस्ट सीरीज का ये तीसरा क्लीन स्वीप है। टीम ने अपने ही घर पर 2013 में ऑस्ट्रेलिया को 4-0 से क्लीन स्वीप किया था। उसी साल वेस्टइंडीज को भी टीम ने क्लीप स्वीप किया था।
भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच हुई टेस्‍ट सीरीज में भारतीय फिरकी गेंदबाज मेहमान टीम के लिए मुसीबत बने रहे। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी ने न्‍यूजीलैंड के बल्‍लेबाजों की कड़ी परीक्षा ली। सीरीज के तीन टेस्‍ट में कीवी टीम ने 60 विकेट गंवाए, इसमें से 41 इसी जोड़ी के नाम रहे. अश्विन ने इंदौर टेस्‍ट की पहली पारी में छह और दूसरी पारी में सात विकेट हासिल किए।

रविचंद्रन अश्विन का कमाल
सीरीज में लगभग 17.77 के औसत से 27 विकेट लिए, इस दौरान पारी में उन्‍होंने तीन बार पांच विकेट लिए. मैच में दो बार वे 10 विकेट लेने में सफल रहे। इस मैच की पहली पारी में उन्होंने 6 तथा दूसरी पारी में 7 विकेट लिए हैं।
रवींद्र जडेजा ने भी दिया उनका साथ
सीरीज जीत में रवींद्र जडेजा ने अश्विन का साथ दिया। उन्‍होंने 24.07 के औसत से 14 विकेट लिए , जिसमें एक बार पांच विकेट शामिल हैं। जडेजा ने बल्‍लेबाजी में भी दम दिखाया। सीरीज के तीन मैचों में उन्‍होंने 64.50 के औसत से 129 रन बनाए जिसमें एक अर्धशतक शामिल रहा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top