बाड़मेर खरंटिया मर्डर खुलासा : वर्तमान सरपंच पुत्र ने पूर्व सरपंच पति की करवा दी हत्या
बाड़मेर
राजस्थान के बाड़मेर ज़िले की बायतु थाना क्षेत्र के जूना खरंटिया गांव में छः दिन पहले अपनी उंचित दूकान के आगे सोये हुए दीपाराम की हत्या का पर्दाफाश करने में पुलिस को सफलता हाथ लगी।  मृतक के गांव के ही रहने वाले भीखाराम ने खरंटिया सरपंच के पुत्र के साथ मिलकर अपने भाणजे व उसके साथी के हाथों दीपाराम की हत्या करवाई। पुलिस ने मामले में पांच जनों को गिरफ्तार किया है। 
पुलिस अधीक्षक डॉ गगनदीप सिंगला ने ने प्रेस वार्ता कर बताया की मैंने व्यक्तिगत रूप से निकटम पर्यवेक्षण कर वृताधिकारी ओम प्रकाश उज्जवल के निर्देशन में नागाणा थानाधिकारी देवीचंद गिड़ा थानाधिकारी मनोज मूड  व् बायतु थानाधिकारी ओम प्रकाश के नेतृत्व में अलग अलग टीमो का गठन किया गया और ओमप्रकाश साइबर सेल की तकनिकी टीम गठन कर अनुसधान शुरू किया गया।  जाच में मृतक के सभी विरोधियो से पूछताछ की गई और करीब 150 मोबाइल नम्बरो का विशेषज्ञ टीम द्वारा विश्लेषण किया गया।  
जाच में हत्या की वजह पुरानी रंजिश व राजनीतिक प्रतिस्पर्धा बताई है। पुलिस ने भीखाराम से पूछताछ की तो भीखाराम व दीपाराम की आपसी रंजिश की बात सामने आई। कड़ाई से पूछताछ पर भीखाराम ने वारदात को अंजाम देने का खुलासा किया।
घटना स्थल भीखाराम की बोलेरो में पहुंचे
भीखाराम की ढाणी से तीनों जने मिलकर भीखा की बोलेरो में सवार होकर दीपाराम की ढाणी पहुंच गए। बोलेरो गाड़ी की लाइट में उन्हें दीपाराम सोया हुआ दिखाई दिया। भभूता व चांदनाथ सोए हुए दीपाराम के पास पहुंचे और लाठी से वार कर उसकी हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों वापस बोलेरो तक पहुंचे और गाड़ी में सवार होकर घटनास्थल से निकल पड़े। 
भभूता व चंदीया चवा पहुंचकर मानाराम के साथ टैक्सी में बैठकर बाड़मेर पहुंच गए। एसपी ने बताया कि भीखाराम, दमाराम, भभूताराम, चांदनाथ व मानाराम को गिरफ्तार किया गया है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top