राष्ट्रीय पोषण सप्ताह एक लक्ष्य स्वस्थ राष्ट्र बनाने का : डॉ. रामगोपाल
जेएसपीएच में राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के अन्तर्गत विशेष कार्यशाला आयोजित
जोधपुर  
जन-स्वस्थ्य के क्षेत्र में अग्रणी संस्थान जोधपुर स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ (जे एस पी एच) के एम हेल्थ ट्रेनिंग सेंटर में राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के अन्तर्गत विशेष जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को स्टूडेंट्स एवं जनस्वास्थकर्मियों हेतु विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। 
भारतीय पोषण सोसाइटी के जोधपुर चौप्टर के संयोजक एवं कार्यशाला के मुख्य वक्ता डॉ. रामगोपाल नें पोषण सोसाइटी की विभिन्न गतिविधियों एवं कार्यप्रणाली पर विस्तृत जानकारी के पश्चात् बताया की राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का लक्ष्य एक स्वस्थ राष्ट्र बनाने का है जिसके लिये दूसरे अभियानों के साथ स्वीकृत प्रशिक्षण, समय से शिक्षा, सेमिनार, विभिन्न प्रतियोगिताएँ, रोड शो आदि के द्वारा समुदायों के लोगों के बीच पोषण संबंधी परंपरा की जागरुकता को जन स्वास्थ्यकर्मियों के सहयोग से फैलाने की जरुरत है।
कार्यक्रम संचालिका एवं जे एस पी एच की विभागाध्यक्ष डॉ. लतिका नाथ सिन्हा नें प्रतिभागियों हेतु पोषण एवं आहार पे आधारित एक विशेष क्विज का आयोजन किया।
कार्यशाला के सह वक्ता शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ कांती जोशी नें बताया की नवजात शिशु को एक बड़े स्तर की प्रतिरक्षा और स्वस्थ जीवन उपलब्ध कराने के लिये 6 महीनों तक माँ का दूध या नवदुग्ध के रुप में जाना जाने वाला पहला दूध अपने नवजात को पिलाने के लिये दूध पिलाने वाली माँ को प्रोत्साहित किया जाता किया जाना चाहिए।
पोषण एवं आहार विशेषज्ञ डॉ. भावना सती नें ष्पोषण एवं जीवन चक्रष् विषय पर प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रेजेंटेशन प्रदान किया एवं गर्भवती महिलाओं को गर्भ के दौरान एवं प्रसव पश्चात् मिला कर विशेष रूप से एक हजार दिनों तक पोषण एवं आहार सम्बंधित जानकारी प्रदान की। डॉ. रश्मी राठौड़ नें पोषण संबंधी समस्याओं को नियंत्रितए बचाव के लिये उचित तकनीक का आँकलन एवं विषय पर हुए नवीन शोधों एवं सरकार द्वारा विभिन्न राष्ट्रीय पोषण नीतियाँ पर विस्तृत जानकारी प्रदान की। कार्यशाला में जे एस पी एच से डॉ. नितिन जोशी, डॉ. अभिषेक लोहरा , भूपेश अडवानी, जयदीप सिंह राठौड़ , संतोष जैन , रविराज उपस्थित थे ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top