बाड़मेर। दलितों ने इंसाफ न मिलने तक डटे रहने का लिया संकल्प

जिला प्रमुख एवं पूर्व सांसद पहुंचे धरने पर सांसद कर्नल की निंदा

बाड़मेर।
दलित उत्पीड़न के प्रकरणों मे नामजद सभी आरोपियों की गिरफ्तारी नही होने के विरोध मे कलक्टर कार्यालय के बाहर चल रहा महापड़ाव 11वें दिन भी शनिवार को जारी रहा। इस बीच धरना स्थल पर पूर्व सांसद हरीष चैधरी एवं जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल ने पहुंच कर न्याय के लिए हर संभव समर्थन देने का विष्वास दिलाया। वहीं दूसरी तरफ कल जिला परिषद की बैठक मे सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी द्वारा समिति के संयोजक उदाराम मेघवाल के विरूद्व किए गये शर्मनाक कथन की निंदा की और बड़ी संख्या मे एकत्रित दलित समुदाय के लोगों ने सांसद को आने वाले चुनावों मे करारा जवाब देने का निष्चय किया।
समिति के संयोजक उदाराम मेघवाल ने बताया कि पुलिस आंदोलन के 11 वें दिन भी उत्पीड़न के सभी प्रकरणों मे नामजद मुख्य अभियुक्तों पर हाथ नही डाल रही हैं जिनके पीछे प्रभावषाली लोगों का हाथ हैं। खेतीबाड़ी छोड़ कर दलित किसान आंदोलन कर न्याय मांग रहे हैं। पूर्व सांसद हरीष चैधरी ने धरना स्थल पर पहुंच सभी प्रकरणों की जानकारी ली और ऐसी घटनाओं की घोर निंदा कर कहा कि वे स्वंय दिल्ली मे राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष से मुलाकात कर बाड़मेर विजिट करवाने एवं दखल देने की मांग कर न्याय दिलाने की हर संभव कोषिष करेंगे।
विज्ञप्ति मे बताया कि शुक्रवार को जिला परिषद की बैठक के बाहर जिस समय दलित प्रदर्षन कर न्याय मांग रहे थे, उस वक्त अंदर बैठे सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी ने समिति के संयोजक उदाराम मेघवाल पर अभद्र कमेण्ट्स किए। दलित समुदाय के लोगों ने सांसद के इस बर्ताव की घोर निंदा कर चुनावों मे सबक सिखाने का संकल्प लिया। धरनास्थल पर भूराराम भील लक्ष्मण बडेरा, हरखाराम मेघवाल, रामदास सांगेला, पार्षद सोहन मंसुरिया, श्रवण चन्देल, पूर्व सरपंच जीवाराम राठौड़, सवाईराम मेघवाल, टाउराम बोस, खेतेष कोचरा, जोगाराम मेघवाल, मांगाराम, भागूराम मंसुरिया, पूर्व सरपंच बांकाराम, केषराराम भील, भंवरलाल पंवार, मूलाराम पूनड़, हेमराज मेघवाल, किषन मंसूरिया, हरीष बामणिया, पुराराम भाटिया, देवराज कालुड़ी, विरधाराम कोडेचा, चेतनराम कागा, करनाराम मारूड़ी, आम्बाराम पंवार, चेलाराम मंसुरिया, करनाराम गेलरा, प्रतापाराम धनाउ सहित बड़ी संख्या में दलित समुदाय उपस्थित रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top