संगठित रहकर चुनौतियों का सामना करेः सिंह 

राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन जिला बाड़मेर ईकाई की बैठक आयोजित

बाड़मेर।
राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन जिला बाड़मेर ईकाई की बैठक रविवार को महावीर पार्क में सुबह 11 बजे आयोजित हुई। 
बैठक को संबोधित करते हुए राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन के प्रदेश प्रवक्ता रमेश पंवार ने कहा कि संगठन द्वारा दिसंबर में की गई टूल डाउन हड़ताल के दौरान निगम द्वारा की गई कार्यवाही को निरस्त कराने के लिए निरन्तर प्रयास किए जा रहे हैं, इसी का नतीजा हैं कि हड़ताल मंे नौकरी से बर्खास्त किए गए दो कर्मचारियों को निगम ने पुनः सेवा में वापस ले लिया है, जो कि संगठन की अब तक की बड़ी उपलब्धि हैं। इसके अलावा निलंबित चल रहे तीन कर्मचारी नेताओं की बहाली के साथ ही हड़ताली कार्यवाही को निरस्त कराने के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया द्वारा दिए गए निर्देशों में हो रहे विलंब के बारे में भी जानकारी दी गई। बैठक में पूर्व प्रदेश संयोजक नरेन्द्रसिंह ने कहा कि कर्मचारियों को किसी भी तरह से भयभीत होने की जरूरत नहीं हैं और न ही किसी के बहकावे में आने की। हर कार्यवाही को पूरा करने में एक समय तो लगता हैं लेकिन काम जरूर होता हैं। इसलिए सभी कर्मचारी संगठित रहकर चुनौतियों का सामना करे और अपने साथियों का मुश्किल घड़ी में साथियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चले। बैठक में गणपत प्रजापत ने कहा कि संगठन ही कर्मचारी की मुश्किल घड़ी में काम आता हैं और जो संगठन सही और कर्मचारी हित में करता हैं, कर्मचारी को उसी के पक्ष मंे चलना चाहिए। बैठक को संबोधित करते हुए लिखमाराम चैधरी ने कहा कि बिना पैसा एवं पदोन्नति लिए निगम की ओर से अकुशल कहे जाने वाले कर्मचारियों को कुशल श्रेणी का काम थोप दिया गया हैं जो उचित नहीं हैं। बैठक जिले के विद्युत तकनीकी कर्मचारियों की समस्याओं पर मंथन हुआ। बैठक में रमेश चैधरी, रूघसिंह, राजेन्द्र सोनी, कन्हैयालाल, गोविन्दसिंह, रविशंकर, दलपतसिंह, बांकाराम प्रजापत, बलराम, विनय कुमार, भंवरलाल, डलाराम सहित कई कर्मचारी मौजुद थे। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top