सड़ा पंचायत में हुआ महिला सम्मेलन का आयोजन
बाड़मेर 
समाज के विकास गति समुदाय की जागरुकता पर निर्भर करती है। समुदाय की जागरुकता में यदि महिला एवं पुरुष समान रुप से भागीदारी निभाये तो विकास को निश्चित ही एक नया आयाम प्राप्त होगा। हालांकि महिला सशक्तिकरण को लेकर सरकार के प्रयास तारीफ योग्य है किन्तु महिला स्वयं जागरुक होकर अपने अधिकारों की मांग नही करेगी तब विकास को पूर्ण गति प्रदान नही होगी। 
सिणधरी प्रधान जस्सी देवी केयर इण्डिया एवं केयर्न इण्डिया द्वारा संचालित रचना परियोजना एवं ग्राम पंचायत सड़ा के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित महिला सम्मेलन मे आगन्तुकों को बताया की ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा एवं जागरुकता की कमी के कारण महिलाओं ने अभी भी चुप्पी की परम्परा को निभाये रखा है। जिसके कारण महिलाओं की आवश्यकताओं को प्रमुखता नही मिलती है। 
सिणधरी पंचायत के विकास अधिकारी रविन्द्र आचार्य ने बताया की घरों में शौचालयों की आवश्यकता पर बताया की शौचालयों के निर्माण से महिलाओं एवं किशोरियों को सुरक्षा के साथ साथ यह कई बीमारियों से भी बचाता है। किन्तु खेद का विषय है की अभी भी कई घरों की आश्यकता सूची में शौचालय निर्माण नही होता है। उन्होने उपस्थित महिलाओं को आग्रह किया है हर घर में शौचालय निर्माण कर सरकार द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छता अभियान में अपना सहयोग प्रदान करें।
रचना परियोजना की सुशिला जाखड़ ने रचना परियोजना की जानकारी प्रदान करते हुए बताया की संस्थान कई दशकों से महिलाओं एवं किशोरियों के सशक्तिकरण,स्वास्थ्य एवं शिक्षा पर कार्य कर रही है। बाड़मेर में रचना परियोजना मातृ मृत्यु एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिये प्रतिबद्ध है।
पंचायत समिति सिणधरी के प्रसार अधिकारी प्रभूसिंह ने बताया की शास्त्रोक्त है की जिन घरों में महिलाओं की पूजा होती है उन घरों में देवता निवास करते है। आज की मूलभूत आवश्यकता शौचालय एवं पानी है। अतः महिलाओं की आवश्यकताओं का सम्मान करते हुए उन्हे मूलभूत सुविधाऐं उपलब्ध करवाने में सहायता प्रदान करें।
रचना परियोजना के परियोजना अधिकारी संजय ठाकर ने बताया की महिला सम्मेलन का आयोजन ग्राम पंचायत सड़ा द्वारा आयोजित करवाया गया। केयर इण्डिया का महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं आजीविका के क्षेत्र में अनुभव होने के कारण, उक्त अनुभवों को साझा करने हेतु वक्ता के रुप में आमन्त्रित किया गया।
इस कार्यक्रम को सरपंच चतरु देवी, समाज सेवी करमचन्द एवं करनाराम आदि द्वारा भी सम्बोन्धित किया गया। इस कार्यक्रम में पंचायत की 100 से भी ज्यादा महिलाओं ने अपनी सहभागिता निभाई।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top