जैलसमेर छात्र छात्राओं को दी सडक सुरक्षा से जुडे नियमों एवं यातायात की जानकारी 
जैसलमेर 
एसबीके राजकीय महाविद्यालय में यातायात पुलिस के जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत सडक सुरक्षा एवं यातायात नियमों की जानकारी प्रदान करने के लिए छात्र-छात्राओं के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
प्राचार्य डाॅ जे.के.पुरोहित ने बताया कि आज की तेज रफ्तार जिंदगी में युवाओं को सावधानी एवं सुरक्षा उपायों की जानकारी होना आवष्यक है तथी वह अपनी जिंदगी को सुरक्षित रख सकते है। 
कार्यक्रम में पुलिस के प्रषिक्षित कर्मी जुगत दान ने सडक सुरक्षा से संबंधित विस्तृत जानकारी प्रदान की उन्होनें बताया कि यदि हम जागरूक होगे तभी सुरक्षित रहा पायेगें तथा हमारी सुरक्षा के साथ - साथ हम दुसरो की भी जिंदगी बचा पायेगें। ,उन्होने बताया कि भारत में प्रतिवर्ष डेढ लाख मौतें सडक दुर्घटना से होती है। यह आंकडा रोज 400 मौतों तक जाता है यदि इससे आगे देखे तो प्रति 08 मिनट में एक मौत रोज होती है। इसमें अधिकांष युवा मौतें होती है। जिससे की पूरा परिवार बर्बाद होता है। उन्होने बताया की दुर्धटना धटने के एक घंटे का समय पीडित के लिये महत्वपूर्ण होता है। इस गोल्डन ओवर में पीडित को प्राथमिक चिकित्सा प्रदान करे जीवन बचा सकते हैं। दुर्धटना ग्रस्त व्यक्ति को केष लेस ट्रीटमेंट स्कीम के तहत 48 घ्ंाटे तक निजी व सरकारी चिकित्सालय उस चिकित्सा देने के लिये बाध्य है। 
उन्होने सभी छात्र छात्राओं को सडक सुरक्षा से जुडे नियमों एवं यातायात संकेतों आदि की विस्तृत जानकारी प्रदान कर यातायता पुलिस से सहयोग करने की अपील की । 
एन.सी.सी अधिकारी डाॅ अषोक तंवर ने कहा कि हेलमेट बोझ नहीं है , यह हमारी सुरक्षा है उसे आप लगाकर खुदकी सुरक्षा के साथ -साथ अपने परिवार की सुरक्षा कर पायेगें।उन्होने सभी छात्रों को सड़क सुरक्षा के उपाये अपनाने की अपील की तथा यातायात पुलिस के इस कार्यक्रम की सराहना की तथा महाविद्यालय परिवार की और से यातायात पुलिस के जागरूकता कार्यक्रम के लिये आभार व्यक्त किया 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top