विश्नोई ने लिया पेयजल व्यवस्थाओं का जायजा 
अन्तिम छोर तक पेयजल आपूर्ति के निर्देश
बाड़मेर।
अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई ने मंगलवार को शिव तथा गडरारोड क्षेत्रों का भ्रमण कर पेयजल व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होने सूदुर अन्तिम छोर की गॉव- ढाणियों की जलापूर्ति व्यवस्था की जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान राइजेप के अधिशाषी अभियन्ता हजारीराम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उनके साथ थे।
बिश्नोई ने मंगलवार को गिराब, असाडी, शास्त्री गांव, सांखला फांटा, खबडाला, बन्धडा, पीपराली सहित विभिन्न क्षेत्रों की पेयजल व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होने निरीक्षण के दौरान खबडाला, बन्धडा, पीपराली इत्यादि स्थानों पर जलापूर्ति सन्तोषजनक नहीं पाये जाने पर अधिशाषी अभियन्ता राइजेप को तीन दिन में पेयजल व्यवस्था सुचारू करने के निर्देश दिए। 
उन्होने निरीक्षण के दौरान खबडाला में नये कमीशण्ड किये गये टयुबवेल का भी निरीक्षण किया तथा जलदाय विभाग के अधिकारियों को पेयजल की लाईनों से अवैध जल कनेक्शन तुरन्त प्रभाव से हटाने तथा प्रभावी मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए ताकि अन्तिम छोर तक पानी की आपूर्ति की जा सकें। 
इसके पश्चात् अतिरिक्त जिला कलक्टर विश्नोई ने गिराब ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल की। इस दौरान बडी संख्या में पहुंचे ग्रामीणों ने पेयजल, विद्युत, सडक सहित विभिन्न समस्याएं चौपाल में प्रस्तुत की। उन्होने ग्रामीणों द्वारा प्रस्तुत जन समस्याओं की सुनवाई कर संबंधित अधिकारियों को समस्याओं का त्वरित निराकरण कर राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को गिराब से चेतरोडी तथा गिराब से असाडी क्षतिग्रस्त सडकों की तत्काल मरम्मत कराने के निर्देश दिए। उन्होने डिस्कॉम के सहायक अभियन्ता को जलदाय विभाग के हैड वर्क्स तथा पम्पिंग स्टेशनों पर नियमित एवं सुचारू विद्युत आपूर्ति करने के निर्देश दिए।
रात्रि चौपाल के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ने राज्य सरकार की मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, ग्रामीण स्वच्छता योजना सहित विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओें की जानकारी देते हुए ग्रामीणों से सक्रिय होकर योजनाओं का लाभ उठाने का आहवान किया। साथ ही उन्होने ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर आयोजित हो रहे राजस्व लोक अदालत अभियानः न्याय आपके द्वार शिविरों में सक्रिय भागीदारी निभाकर अधिकाधिक राजस्व प्रकरणों का निस्तारण कराने कराने को कहा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top