जोधपुर यार्ड रिमोडलिंग एवं इलेक्ट्ोनिक इन्टरलाॅकिग का कार्य पूर्ण 
जोधपुर  
जोधपुर स्टेषन एक महत्वपूर्ण काॅचिग टर्मिनल है, तथा दिन प्रतिदिन इस स्टेषन पर 60 से अधिक यात्री गाडियों का आवागमन रहता है तथा 40 से अधिक मालगाडियो की संचालन किया जाता है। इस स्टेषन पर गाडियो का संचालन मेकेनिकल सिगनलिंग एवं एंड केबिन से होने के कारण अधिक समय व्यतीत होता था, तथा लाईनो की क्षमता एवं छोटी लम्बाई के प्लेटफार्म की वजह से 24 कोच की गाडियो के संचालन में परेषानी होती थी । इस स्टेषन पर यार्ड रिमाॅडलिग एवं इलेक्ट्ोनिक इन्टरलाॅंकिंग का कार्य पूर्ण होने के कारण सभी मालगाडियो एवं यात्री गाडियो का संचालन पूर्ण संरक्षा एवं कम समय में किया जा सकता है । यह सिगनल प्रणाली कम्प्यूटर आधारित प्रणाली है, तथा केवल एक माउस क्लिक पर गाडी कर रूट बनाया जा सकता है । इस कार्य के अन्तर्गत 29 टर्नआउट को हटाकर 32 नई टर्नआउट एवं लगभग 4.50 किमी. नये ट्रैक का कार्य किया गया । इस कार्य के पूर्ण होने से प्लेटफार्म सं. 2, 3, 4, 5 की लम्बाई में वृद्वि होने पर 24 कोच की गाडियो का संचालन भी सुगमतापूर्वक किया जा सकेगा । 
इस कार्य को निर्धारित समयावधि में पूर्ण सुरक्षा के साथ समापन करने में इंजीनियरिग विभाग एवं सिगनलिग विभाग के लगभग 350 श्रमिको, सुपरवाईजर तथा अधिकारीगण एवं ट्ाफिक विभाग के 50 कर्मचारियो एवं अधिकारीगण ने दिन के 50 डिग्री तापमान पर एवं लगातार रात्रि में कार्य किया । 
यह कार्य रेलवे बोर्ड एवं जोनल मुख्यालय द्वारा दिन प्रतिदिन माॅनिटरिंग करने पर सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ ।  
इस कार्य के पूर्ण होते ही उपरोक्त सभी गाडियो का संचालन समय पर षुरू कर दिया गया तथा इससे यात्रियो को सभी गाडियों में आवागमन की सुविधा प्रदान कर दी गई। 
2011-12 के दौरान पिंक बुक सं. 27 के अन्तर्गत स्वीकृत जोधपुर यार्ड रिमोडलिंग का कार्य स्वीकृत हुआ था ।

1. इस कार्य हेतु आवष्यक एजेन्सी नामित करते के पष्चात कुछ भूमि विवाद के कारण कार्य में कुछ अवधि तक बाधित रहने के बाद वर्ष 2016 में मुख्यालय जयपुर के निर्देषानुसार यार्ड में नाॅन-इन्टरलाॅकिंग (एन.आई.) का कार्य 25 अप्रैल-2016 को प्रारम्भ किया गया ।

2. इस पूरे कार्य को चार चरणों में बांटकर पुरा किया गया ।

ऽ पहले चरण में प्री-एन आई से पूर्व के कार्य 25.04.16 से 15.05.16 तक 

ऽ दुसरे चरण में प्री-एन.आई. से सम्बन्धित कार्य दिनांक 16.05.16 से 02.06.2016 तक 

ऽ तीसरे चरण में एन.आई. (प्रथम चरण) का कार्य दिनांक 03.06.16 से 06.06.16 तक

ऽ चैथे चरण में एन.आई. (द्वितीय चरण) का कार्य दिनांक 07.06.16 से 09.06.16 तक 

ऽ चारो चरणांे में कार्य प्रस्तावित समय में शुरू करते हुए सभी कार्य सफलतापूर्वक एवं पुर्ण संरक्षा सुनिष्चित करते हुए पूर्ण किये गये।

3. यार्ड रिमोडलिंग के कार्य के पूर्ण होने से जोधपुर यार्ड में लाईन नं. 3, 4, 5, 6 एवं 7 को पूर्ण क्षमता में परिवर्तित करते हुए अभुतपूर्व वृद्धि की गई तथा प्लेटफार्म सं. 4 व 5 में 60 मीटर लम्बाई की वृद्धि की गई ।

4. यह कार्य सिगनलिंग एवं इंजीनियरिंग विभाग के संयुक्त प्रयास से दिन के 50 डिग्री तापमान एवं लगातार रात्रि में कार्य करते हुए प्रस्तावित समयावधि में पूर्ण संरक्षा के साथ सफलतापूर्वक समाप्त किये गये ।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top