थार महोत्सव आयोजन एवं पर्यटन विकास पर विचार-विमर्श
बाड़मेर 
बाड़मेर जिले मंे पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए थार महोत्सव आयोजित किया जाएगा। पर्यटन विकास के लिए जन सहभागिता सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा पर्यटन स्थलांे का चिन्हीकरण करके सोशियल मीडिया समेत विभिन्न माध्यमांे के जरिए पर्यटन विकास की संभावनाएं तलाशी जाएगी। बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कार्यवाहक जिला कलक्टर एम.एल.नेहरा की अध्यक्षता मंे हुई जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक मंे इसको लेकर व्यापक विचार-विमर्श किया गया।
जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक मंे थार महोत्सव के आयोजन की तिथियां तय करने, निजी संस्थाआंे की ओर से शहर मंे पर्यटक स्थलों संबंधित होर्डिग लगाने, प्रतिबंधित मुख्य पर्यटक स्थलांे पर पर्यटकांे की अनुमति के लिए गृह मंत्रालय को पत्र लिखने, पेट्रो टयूरिज्म एवं पचपदरा मंे पिरामिड विकसित करने, लाइट एंड साउंड शो के लिए निजी संस्था की सहभागिता, शिल्प ग्राम को तैयार करने समेत विभिन्न मुददांे पर विचार-विमर्श हुआ। इस दौरान कार्यवाहक जिला कलक्टर एम.एल.नेहरा ने कहा कि बाड़मेर में पर्यटन विकास की असीम संभावनाएं है। इस दिशा मंे समन्वित प्रयास किए जाने की जरूरत है। उन्हांेने कहा कि थार महोत्सव को प्रदेश के पर्यटन कैलेण्डर मंे जोड़ा जाए। ताकि बाड़मेर आने वाले पर्यटकांे की तादाद मंे इजाफा हो। सहायक निदेशक विकास पंडिया ने बाड़मेर मंे पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पचपदरा मंे पिरामिड निर्माण के लिए प्रस्ताव भिजवाया गया है। उन्हांेने बाड़मेर जिला मुख्यालय पर विभिन्न गतिविधियांे के आयोजन के लिए कन्र्वेजशन संेटर बनाने का सुझाव दिया। इस दौरान उद्यमी पुरूषोतम खत्री ने कहा कि जिले मंे पर्यटन को बढावा देने के लिए थार फोरम का गठन किया जाए। उन्हांेने पर्यटन स्थलांे के चिन्हीकरण के साथ पर्यटन को विकसित करने के लिए स्थानीय कला,संस्कृति एवं हस्त शिल्प से जुड़े उत्पादांे को बढ़ावा देने की जरूरत जताई। उन्हांेने जुना पतरासर मंे भी पुराना शहर दबा होने की संभावना जताते हुए इसको कुलधरा की तर्ज पर विकसित करने की जरूरत जताई। इस दौरान उप वन संरक्षक लक्ष्मणलाल ने बताया कि जूना पतरासर मंे पुरासंपदा को संरक्षित किए जाने की जरूरत है। इस बैठक मंे पुरातत्व विभाग एवं संग्रहालय जोधपुर के भीमराज, नेहरू युवा केन्द्र के राजेन्द्र पुरोहित, होटल यदुराज के भाखरसिंह गोरडि़या, जलदाय विभाग के लिच्छूराम चैधरी, जिला शिक्षा अधिकारी कैलाशचंद तिवाड़ी समेत कई लोग उपस्थित रहे।
वीरातरा समेत कई स्थानांे पर जाने की अनुमति मिलेगीः विदेशी पर्यटकांे को वीरातरा मंदिर,वेर माता मंदिर,रण आफ कच्छ बाखासर बोर्डर, मुनाबाव अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन पर जाने की अनुमति दिलाने के लिए गृह विभाग को पत्र लिखा गया है। पर्यटन विभाग के अधिकारियांे के मुताबिक इन स्थानांे पर जाने संबंधित प्रतिबंध हटने की संभावना है। इससे पर्यटन विकास को बढावा मिलेगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top