जच्चा बच्चा की सुरक्षा संबंधी वात्सल्य कार्यक्रम का समापन 
जैसलमेर।
आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र एवं प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के माध्यम से सरकार ने आपकी पहंुच में स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करायी हैं। हम सुनते हैं पहला सुख निरोगी काया, सुना भी देते हैं लेकिन उसके लिए पर्याप्त प्रयास नहीं करते। हम स्वस्थ्य रहेंगे तो ही सुखी रहेंगे और अपने परिवार तथा देश की सेवा कर सकेंगे। गर्भवती महिला, बच्चे और बुजुर्गो के स्वास्थ्य के प्रति हमें अधिक सावचेत रहने की आवश्यकता है। आमजन को स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति जागरूक करते हुए लाभ लेने के लिए पे्ररित करने का सराहनीय कार्य कर रहे क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय के कार्यक्रमों का हमें भरपूर फायदा उठाना चाहिए। भारत सरकार के क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, पंचायत समिति, जैसलमेर, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा ग्राम पंचायत खींया, नेड़ाई, सुल्ताना, मोकला एवं पारेवर के संयुक्त तत्वावधान में अटल सेवा केन्द्र खींया में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में मुख्य अतिथि एवं जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने यह बात कही।
क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय, जेसलमेर व जोधपुर के वात्सल्य स्वस्थ मां स्वस्थ्य शिशु पर केन्द्रित वात्सल्य जागरूकता कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि एवं विकास अधिकारी, जैसलमेर छोगाराम विश्नोई ने बताया कि स्वस्थ्य रहने के लिए स्वच्छता को महत्व देना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जहां -जहां गंदगी होती है वहां बीमारियां अधिक फैलती हैं। इसलिए हमें भारत सरकार के स्वच्छ भारत अभियान का महत्व समझकर हर घर में शौचालयों का निर्माण और उपयोग सुनिश्चित करना होगा। 
इस अवसर पर संदर्भ वक्ता ब्लाॅक सीएमएचओ, जैसलमेर डा. आर. पी. गर्ग ने गर्भवती महिला और नवजात शिशुओं के खान पान और स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए नियमित जांच कराने की सलाह दी। साथ ही मौसमी बीमारियों से बचने और बदलते मौसम में स्वस्थ्य रहने के लिए स्वास्थ्य के प्रति सावचेत रहने की उपयोगी जानकारी दी। उन्होंने शिशुओं में होने वाली डिप्थीरिया, पोलियो, टी.बी. ओरी. दस्त. गलघोटू, काली खांसी टिटनेस आदि रोगो के कारण व निवारण के बारे में बताया। क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय की ओर से आयोजित स्वास्थ्य जांच शिविर में पीएचसी देवा के डा. यश तिवारी ने 190 मरीजों निः शुल्क जांच करते हुए आवश्यक परामर्श व दवाईयां दी। 
कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी, जोधपुर राजेश कुमार मीणा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए बताया क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय भारत सरकार की एक मात्र मीडिया इकाई है जो दूर दराज के ग्रामीण क्षेत्र में पहुंचकर आमजन को जागरूक करती है। मीणा ने बताया कि ग्रामीणजन से उनकी बोली और भाषा में सीधा संवाद और फिल्म, संगोष्ठी, चैपाल और रोचक प्रतियोगिताओं के माध्यम से सरकारी योजनाओं की उपयोगी जानकारी देकर निदेशालय उन्हें विकास में भागीदार बनाने के लिए सत्त प्रयासरत है। क्षेत्रीय प्रचार कार्यालय, जैसलमेर के इकाई प्रमुख के. आर. सोनी ने बताया कि क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय द्वारा जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से आमजन और सरकार के बीच की एक कड़ी का कार्य करता है। इससे राष्ट्रीय एकता, साम्प्रदायिक सद्भाव और भाईचारा को बढावा मिल रहा है साथ ही विश्वास का वातावरण भी तैयार हो रहा है।
विभाग द्वारा पांच दिवसीय वृहत्त-स्तर पर वात्सल्य अभियान में पंचायत समिति जैसलमेर के विकास अधिकारी, छोगाराम विश्नोई, चिकित्सा एंव स्वास्थय विभाग, जेसलमेर के ब्लांक सीएमएचओ डा0 आर.पी.गर्ग, चिकित्सा अधिकारी, पीएचसी देवा के डा0 यश तिवारी, जिला परिषद सदस्य, जेसलमेर के प्रेमडूगरसिह, ग्राम पंचायत खंीया के संरपच श्रीमती दीपामंगल, ग्रामपचांयत पारेवर के संरपच श्रीमती भागादेवी, ग्राम पंचायत मोकला के संरपच श्रीमती प्रेमकंवर, ग्रामपंचायत सुल्ताना के किरणकंवर के साथ की ग्रामसेवक एंव पदेन सचिव खंीया, पारेवर,मोकला, सुल्ताना के चन्दवीरसिह, ईश्वरसिह,जब्बरसिह,गोपालराम, सामाजिक कार्यक्रर्ता हुकमसिह एवंम् पांचों ग्राम पंचायत की आगनवाड़ी कार्यक्रता ए.एन.एम और राजस्थान लोक कला मण्डल के पुष्कर एण्ड पार्टी, इत्यादि ने जागरूकता कार्यक्रम खंीया में पहूच कर कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना महत्तवपूर्ण सहयोग प्रदान किया साथ ही इस अवसर पर डीएफपी द्वारा समापन समारोह में आयोजित विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिता- वाॅलीबाल, म्युजिकल चेयर, रंगोली, रस्सा-कस्सी, दौड, मौखिक प्रश्नोत्तरी, स्वस्थ शिशु प्रतियोगिताओं में जिसमें सफल एवं विजेता प्रतिभागियो को विभाग द्वारा निदेशालय से प्राप्त पुरूस्कार मुख्य अतिथि के हाथों से देकर सम्मानित किया गया। 
पहला सुख निरोगी काया, रैली के माध्यम से दिया संदेश: जिला प्रमुख 
अंतवैयक्तिक संवाद के माध्यम से प्रभावी प्रचार कार्य रहे क्षेत्रीय प्रचार निदेषालय के जोधपुर एवं जैसलमेर कार्यालयों द्वारा खींया में स्वास्थ्य का महत्व बताते हुए आमजन को जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य जन चेतना रैली का आयोजन किया गया। जैसलमेर कि जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल ने राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय से रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। 
रैली के माध्यम से प्रतिभागियों ने एक लड़की पढेगी-सात पीढी तरेगी, परिवार जिसका छोटा है-बचत का खाता मोटा है, ताउ बोल्यो ताई ने-पढबा भेजो बाई ने, हम सबने यह ठाना है-खींया गांव को स्वच्छ बनाना है आदि पे्ररक नारे लगाते हुए आमजन को पे्ररक संदेष दिया। यह रैली विद्यालय से रवाना होकर गली मौहल्लो, चैपाल पर स्वास्थ्य के संदेष देकर कार्यक्रम स्थल पर सभा में भागीदार बनी। रैली के साथ रंग बिरंगी पौषाक पहनकर बालिकाओं ने कलष यात्रा भी निकाली। साथ ही नव युवक मण्डल खींया के डी आर पंवार के सहयोग से वाहन और साईकल रैली का भी आयोजन किया गया।
ज्ञानवर्द्धक मनोरंजन के साथ जागरूकता का पैगाम
क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय के जैसलमेर व जोधपुर कार्यालयों द्वारा चिकित्सा एवं स्वास्थय विभाग, जैसलमेर के सहयोग से खींया में आयोजित स्वास्थ्य जागरूकता में राजस्थान लोक कला मण्डल, बाड़मेर के अन्तराष्टीय ख्याती प्राप्त पुष्कर एण्ड पार्टी के कलाकारों ने ज्ञानवर्द्धक मनोंरंजन करते हुए जागरूकता का संदेष दिया। कलाकारों ने कल्याणकारी योजनाओं, बेटी बचाओं बेटी पढाओं, स्वच्छ भारत अभियान, मिशन इन्द्रधनुष सम्पूर्ण टीकाकरण , स्वास्थय, नशा मुक्ती, तम्बाकु निषेद्व, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, इत्यादि पर गायन वादन के साथ प्रभावी संदेष दिया।
पर्यावरण सुरक्षा के लिए जिला प्रमुख ने किया वृक्षारोपण
भारत सरकार सूचना एंव प्रसारण मंत्रालय, के क्षेत्रीय प्रचार निदेशालय, जैसलमेर एवं जोधपुर द्वारा हरियालो राजस्थान के तहत आज वात्सल्य प्रचार अभियान के उदघाटन एवं समापन समारोह मे जैसलमेर जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने अटल सेवा केन्द्र ग्राम में पौधारोपण कर आमजन को पर्यावरण संरक्षण का भी सदेश दिया 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top