बाड़मेर छीजत में कमी लाने वाले कार्मिको को सम्मानित करेगा डिस्काम
बाड़मेर।
वित्तीय वर्ष 2015-16 के दौरान तकनीकी एवं वाणिज्यिक हानि मंे कमी लाने मंे महत्वपूर्ण योगदान देने वाले एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले डिस्काम कार्मिकांे को प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार ने दो योजनाएं प्रारंभ की है।
जोधपुर डिस्काम की प्रबंध निदेशक आरती डोगरा ने बताया कि डिस्काम के अधिकारियांे एवं कर्मचारियांे को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार ने दो प्रोत्साहन योजनाआंे को स्वीकृति प्रदान की है। इसके तहत पहली प्रोत्साहन योजना मंे ओएंडएम उपखंडांे में तथा दूसरी विभाग मंे उत्कृष्ट सेवाएं देने वाले व्यक्तियांे को सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह पहली योजना ओ एण्ड एम सब डिवीजनों में कार्य करने वाले स्थाई कर्मचारियों एवं परिवीक्षाधीन प्रशिक्षणार्थी के लिए लागू होगी। जबकि ठेके पर सलाहकार,सुरक्षा गार्ड, स्वैच्छिक सेवानिवृत विद्युत कर्मचारी सेवा से त्याग पत्र देने वाले, पार्ट टाइम एवं वर्ष के दौरान सेवानिवृत होने वाले कर्मचारियों के लिए यह योजना लागू नहीं होगी। उन्हांेने बताया कि प्रोत्साहन राशि देने के लिए ओ एण्ड एम सब डिवीजनों के कर्मचारियों की उपलब्धि का निर्धारण समग्र तकनीकी एवं वाणिज्यिक हानि के लक्ष्यों के आधार पर होगा।
अधिकतम प्रोत्साहन राशि एक माह का वेतनः 
अभियंता एवं कर्मचारियों को अधिकतम प्रोत्साहन राशि एक माह के मूल वेतन के बराबर जो मार्च 2016 में देय होगी दी जाएगी।
प्रोत्साहन राशि की गणनाः 
प्रोत्साहन राशि की गणना मार्च 2015 के बाद समग्र तकनीकी एवं वाणिज्यिक हानि को कम करने के लिए लक्ष्य की प्राप्ति के आधार पर की जाएगी। इस कार्य के लिए नियुक्त अंकेक्षण एवं तृतीय पक्ष के द्वारा इसका सत्यापन किया जाएगा।
विशेष प्रोत्साहन योजनाः 
डिस्कॅाम के 10 कर्मचारी जिन्होंने विभाग में उल्लेखीय सेवाएं दी है, उनको उल्लेखीय सेवाओं के लिए ऊर्जा दिवस के अवसर पर ऊर्जा चक्र से सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस योजना के लागू होने से एक ओर जहां डिस्कॅाम के घाटे में कमी आएगी वहीं दूसरी ओर उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को प्रोत्साहन भी मिलेगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top