सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज शिकायतों का गम्भीरता के साथ त्वरित निराकरण के निर्देश
बाड़मेर।
जिले के प्रभारी सचिव कुंजीलाल मीणा ने राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज समस्याओं एवं शिकायतों का गम्भीरता के साथ त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिए जहै। वे रविवार को कलक्ट्रेट कांफ्रेन्स हाॅल में आयोजित बैठक में अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे।
इस अवसर पर प्रभारी सचिव मीणा ने कहा कि राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज समस्याओं एवं शिकायतों का निराकरण राज्य सरकार की प्राथमिकता में है तथा इनकी उच्च स्तर पर माॅनिटरिंग कीे जा रही है। उन्होने संबंधित विभागों को सकारात्मक सोच के साथ पूर्ण सजगता एवं संवेदनशीलता के साथ समस्याओं का निराकरण करने तथा प्रभावी माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए।
प्रभारी सचिव मीणा ने कहा कि जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाली जन सुनवाई में सभी विभागीय अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाकर राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप अधिकाधिक लोगों की समस्याओं का निराकरण करवाया जाए। साथ ही जन सुनवाई के दौरान निस्तारित प्रकरणों का प्रति सत्यापन करवाया जाए।
बैठक मेें उन्होने जिले में पानी, बिजली, सडक, शिक्षा एवं चिकित्सा समेत बुनियादी सुविधाओं की समीक्षा की। उन्होने शून्य नामांकन वाले विद्यालयों से शिक्षकों को रिक्त स्थानों वाले विद्यालयों में नियुक्त करने के निर्देश दिए। उन्होने बताया स्कूलों में मिड डे मील के तहत विद्याार्थियों को सप्ताह में एक दिन सब्जी रोटी के स्थान पर दूध दलिया मुहैया कराने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होने जिले में नियमित रूप से आंगनवाडी केन्द्र खुले रखने के निर्देश दिए।
प्रभारी सचिव ने चिकित्सा व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान जिला मुख्यालय सहित सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर सफाई व्यवस्था के साथ पर्याप्त मात्रा में दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चिित करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होने सर्प दंश के इंजेक्शनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा। 
उन्होने नगर परिषद आयुक्त को शहर में पर्याप्त सफाई व्यवस्था सुनिश्चिित करने तथा शौचालय विहित परिवारों का सर्वे करवाकर उनके घरों में शौचालय बनाने हेतु कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होने आरयूआईडीपी के अधिकारियों को शहर में सिवरेज का कार्य दिसम्बर माह तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। 
प्रभारी सचिव ने जिले में संचालित ग्रामीण विकास की योजनाओं तथा फलैगशिप कार्यक्रमों की विस्तृत समीक्षा की तथा उनकी मासिक प्रगति को परखा। उन्होने मनरेगा से संबंधित भुगतान समयबद्ध और पारदर्शी रखने के निर्देश दिए।
इससे पूर्व जिला कलक्टर मधुसूदन शर्मा ने जिले में विभागवार योजनाओं व मासिक प्रगति की जानकारी कराई। बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. बिश्नोई, मुख्य कार्यकारी अधिकारी गोपालराम बिरडा सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top