कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री का पुतला फूंका
बाड़मेर 
आई.पी.एल. के पूर्व कमिश्नर एवं उद्योगपति ललित मोदी को इमिग्रेशन मामले में मदद देने के आरोप में फंसी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए क्योंकि ललित मोदी को भारत सरकार द्वारा भगोड़ा घोषित किया गया है साथ ही मुख्यमंत्री के सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह की कम्पनी में भी अवैध रूपयों के लेन-देन का मामला सामने आया है। इस कारण भ्रष्टाचारी का सहयोग कर मुख्यमंत्री ने अपने अधिकारों का दुरूपयोग किया एवं कानून का उल्लंघन किया। ये विचार प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं बाड़मेर प्रभारी राजेन्द्र चैधरी ने जिला मुख्यालय पर मुख्यमंत्री के विरूद्ध धरना प्रदर्शन के दौरान कही। उन्होनें कहा कि वसुंधरा को अब सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है। मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है।

प्रदेश सचिव जगदीश चैधरी ने कहा कि केन्द्र सरकार को वसुंधरा के खिलाफ कठोर कार्यवाही कर उन्हें पद से बर्खास्त कर देना चाहिए। मुख्यमंत्री ने राजधर्म के विरूद्ध कार्य किया है।

जिलाध्यक्ष फतेह खां ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भ्रष्टाचारी का सहयोग कर संविधान का उल्लंघन किया है। कांग्रेस पार्टी की मांग है कि मुख्यमंत्री पर उचित कार्यवाही कर उन्हें पद से हटाया जाना चाहिए।

जिला प्रवक्ता मुकेश जैन ने बताया कि 19 जून शुक्रवार को राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार कलेक्ट्रेट के सामने बाड़मेर जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा आई.पी.एल. के पूर्व कमिश्नर व भ्रष्टाचार के आरोपी ललित मोदी को गैर कानूनी रूप से सहायता पहुंचाकर देश व राज्य हितों पर कुठाराघात करने एवं ललित मोदी द्वारा मुख्यमंत्री के सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह की कम्पनी के शेयरों को करोड़ों रूपये में खरीदकर भ्रष्टाचार को बढ़ावा देकर देश के साथ अन्याय किया है। मुख्यमंत्री के इस कारनामे के कारण कांग्रेस पार्टी द्वारा उनके इस्तीफे की मांग एवं विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया गया एवं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का पुतला फूंका तथा मुख्यमंत्री को पद से हटाए जाने के लिए महामहिम राज्यपाल के नाम का ज्ञापन जिला कलक्टर को दिया।

प्रवक्ता ने बताया कि उपस्थित कांग्रेस नेताओं, पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने राजस्थान की वसुंधरा सरकार भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार, वसुंधरा करती भ्रष्टाचार ललित मोदी को किया फरार, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे इस्तीफा दो इस्तीफा दो जैसे नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया।

आज के कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं प्रभारी राजेन्द्र चैधरी, प्रदेश सचिव जगदीश चैधरी, जिलाध्यक्ष फतेह खां, जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल, पूर्व विधायक मदन प्रजापत, उप जिला प्रमुख सोहनलाल चैधरी, नगर परिषद् सभापति लूणकरण बोथरा, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष मूलाराम मेघवाल, बलवंतसिंह चैधरी, महामंत्री चैनसिंह भाटी, जगजीवनराम सिंधी, सोनाराम टाक, कोषाध्यक्ष नरेश ढेलडि़या, सचिव डालूराम चैधरी, प्रधान लक्ष्मणराम डेलू, ताजाराम चैधरी, भगवती मेघवाल, प्रहलाद धतरवाल, शारदा चैधरी, प्रवक्ता गोविंद थोरी, मुकेश जैन, ब्लाॅक अध्यक्ष मोटाराम मेघवाल, दिनेश कुलदीप, भंवरलाल भाटी, दमाराम परमार, यूथ कांग्रेस लोकसभाध्यक्ष ठाकराराम माली, एन.एस.यू.आई. जिलाध्यक्ष भूराराम सारण, सेवादल मुख्य संगठक नरसिंग मेघवाल, लोकसभा यूथ कांग्रेस उपाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह गोदारा, वरिष्ठ कांग्रेसी जगन्नाथ राठी, हरीशचन्द्र सोलंकी, मेवाराम सोनी, पूर्व प्रधान सिमरथाराम बेनीवाल, उदाराम मेघवाल, पार्षद बलवीर माली, किशोर शर्मा, दीपक परमार, रिड़मलसिंह दांता, कचरा खां, सुभान खां, रऊफ राजा, कार्यालय सचिव ओमप्रकाश चैधरी, श्यामसुंदर भादू, कुंभाराम जांदू उड़ासर, एडवोकेट महेन्द्र पोटलिया, फिरोज खां सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस पदाधिकारी, जन प्रतिनिधि एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top