राजपथ बना योगपथ, 35 हजार लोगों के साथ मोदी ने किया योग
नई दिल्ली
भारत समेत दुनिया के 191 देशों में पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन शुरू हो चुका है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी राजपथ पर पहुं च चुके हैं। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर संबोधित करते हुए कहाकि, यह किसी ने नहीं सोचा था कि कभी राजपथ योगपथ बनेगा। योग हमारे अंतर्मन और अंतरऊर्जा के विकास का साधन है। हम केवल एक दिन नहीं मना रहे हैं बल्कि मानव जाति को शांति और सद्भावना का सिखाने के एक नए युग की शुरूआत कर रहे हैं। पीएम मोदी के संबोधन केबाद सुबह सात बजे योगासन शुरू हो गए जो करीब 35 मिनट तक चले। इस दौरान 21 तरह के आसन किए गए।
गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड होगा लक्ष्य पर
भारत में करीब 20 करोड़ लोग योग करेंगे। राजपथ पर 35 मिनट के इस कार्यक्रम में पीएम मोदी समेत 37 हजार से अधिक लोगों ने योग किया। सरकार का दावा है कि यह योग का सबसे बड़ा आयोजन है। इसके लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की टीम को भी बुलाया गया है। देर शाम तक पता चल जाएगा कि वर्ल्ड रिकॉर्ड बना या नहीं। सामूहिक तौर पर योग करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड विवेकानंद केन्द्र के नाम है। इसमें 29973 लोगों ने एक साथ योग किया था।
191 में मनाया जा रहा है योग दिवस
योग दिवस कार्यक्रम के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, उपराज्यपाल नजीब जंग भी मौजूद हैं। केजरीवाल ने कहाकि योग हमारे लिए जरूरी है लेकिन इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। राजपथ पर 50 देशों के प्रतिनिधि मौजूद हैं। इसके अलावा 191 देशों के 251 से अधिक शहरों में योग दिवस मनाया जा रहा है। योगासनों के सीधे प्रसारण के लिए 2000 डिजीटल स्क्रीन लगाई गई हैं। इससे पहले सुबह पीएम मोदी ने ट्वीट कर लोगों को योग दिवस की बधाई दी। योग दिवस के लिए दिल्ली मेट्रो का संचालन सुबह चार बजे से ही शुरू कर दिया गया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top