बाड़मेर कांग्रेस ने दिया धरना, जताया रोष 
बाड़मेर 
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी, बाड़मेर द्वारा राज्य सरकार द्वारा बढ़ाई गई विद्युत दरों एवं जनविरोधी नीतियों के विरोध में एक दिवसीय धरना आयोजित किया गया एवं जिला कलक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। इस धरने में पूर्व मंत्री अमीन खां, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री राजेन्द्र चैधरी, प्रदेश कांग्रेस सचिव जगदीश चैधरी, बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन, जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल, जिलाध्यक्ष फतेह खां, उप जिला प्रमुख सोहनलाल चैधरी, पूर्व विधायक मदन प्रजापत, पदमाराम मेघवाल, जिला उपाध्यक्ष यज्ञदत्त जोशी, मूलाराम मेघवाल, नारायण विश्नोई, बलवंतसिंह चैधरी, महामंत्री चैनसिंह भाटी, गनी मोहम्मद, सोनाराम टांक, जगजीवनराम सिंधी, जिला प्रवक्ता मुकेश जैन, प्रधान ताजाराम चैधरी, श्रीमती रशीदा बानो, पुष्पा चैधरी, ओमप्रकाश भील, तेजाराम मेघवाल, नगर परिषद् सभापति लूणकरण बोथरा, रतनलाल खत्री सहित समस्त ब्लाॅक अध्यक्ष, अग्रिम संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे।
धरने को सम्बोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष व जिला प्रभारी राजेन्द्र चैधरी ने कहा कि राज्य की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने इतिहास में पहली बार बिजली की दरों में 17 प्रतिशत वृद्धि कर आम जनता के हितों पर कुठाराघात किया है जिसे बर्दाश्त नहीं करेगी। कांग्रेस द्वारा इसके विरोध में धरने प्रदर्शन कर जन आंदोलन किया जाएगा।
पूर्व मंत्री अमीन खां ने कांग्रेस की रीति-नीति एवं सिद्धांतों की चर्चा करते हुए कहा कि अकाल के समय में तत्कालीन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अकाल राहत शिविर खोलकर राहत प्रदान की, जबकि वर्तमान में भाजपा सरकार ने प्रदेश में भारी अकाल होने के बावजूद भी अकाल राहत के कार्यों को तीन माह के बाद बंद कर दिया जिससे पशुओं की अकाल मौत हो रही है।
बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि मंगलवार को प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के नेतृत्व में भूमि अधिग्रहण अधिनियम के विरोध में विधानसभा का घेराव करने पर लाठीचार्ज किया गया एवं कांग्रेसी विधायकों को सदन से निलंबित किया गया जिसके लिए राजस्थान की जनता भाजपा सरकार को माफ नहीं करेगी।
प्रदेश सचिव जगदीश चैधरी ने कहा कि आज राज्य की मुख्यमंत्री प्रचण्ड बहुमत के कारण सत्ता मद में डूबी हुई है और जनता पर महंगाई की मार व दमनकारी नीतियों से अत्याचार कर रही है। केवल निजी कम्पनियों को लाभ पहुंचाने के लिए ही 17 प्रतिशत विद्युत दरें बढ़ाई हैं जिसका कांग्रेस पूर्ण रूप से विरोध करती है।
सभा को पूर्व विधायक मदन प्रजापत, पदमाराम मेघवाल, जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल, जिला परिषद् सदस्य मृदुरेखा चैधरी, उप जिला प्रमुख सोहनलाल चैधरी, उदाराम मेघवाल, नजीर मोहम्मद, गोरधनसिंह राठौड़, भंवरलाल भाटी, यज्ञदत्त जोशी, तेजाराम मेघवाल, नरेश भादू, गंगासिंह राठौड़ आदि ने भी सम्बोधित किया। सभा का संचालन जिला प्रवक्ता मुकेश जैन ने किया।
सभा के पश्चात् कांग्रेस नेताओं के नेतृत्व में भारी संख्या में कार्यकर्ताओं द्वारा राज्य सरकार के विरूद्ध नारे लगाते हुए जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया गया। इस सभा में प्रदेश कांग्रेस सदस्य रोशन अली, ब्लाॅक अध्यक्ष पताराम कलबी, दिनेश कुलदीप, मोटाराम मेघवाल, बच्चू खां, वीरेन्द्र जैन, नरेश देव सारण, दमाराम माली, दीपक परमार, करनाराम चैधरी, डालूराम चैधरी, हरीशचन्द्र सोलंकी, चन्द्रसिंह राजपुरोहित, जगजीवनराम सिंधी, ईशा खां राजड़, सिमरथाराम बेनीवाल, रूपाराम सारण, प्रहलाद धतरवाल, चम्पालाल प्रजापत, किशन कागा, देरावरसिंह कोटड़ा, भंवरलाल गोदारा, रिड़मलसिंह दांता, महेन्द्र पोटलिया, लक्ष्मणसिंह गोदारा, प्रेमकरण, कार्यालय सचिव ओमप्रकाश चैधरी, खुमाणसिंह, शंकरलाल जैन, किशोर शर्मा, दलपतसिंह, पपू कुमारी सरपंच, मगाराम सांई आडेल, पदमाराम बेनीवाल, नगाराम गुर्जर, सुभान खां, सूजाराम, मांगीलाल सांखला, सुरतानसिंह, रावताराम मेघवाल, गुलाम अली, रामलाल विश्नोई, महादानसिंह बारहठ, प्रेमप्रकाश चैधरी सहित बड़ी संख्या में जिला परिषद्, पंचायत समिति सदस्य, पार्षद एवं कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top