जैसलमेर पंच एवं सरपंचों के अन्तिम चरण के मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न
जैसलमेर
देष के सीमावर्ती जैसलमेर जिले में पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव-2015 के अन्तिम चरण में तीनो पंचायत समितियों के 34 ग्राम पंचायतो के लिए स्थापित मतदान केन्द्रों पर सरपंच एवं वार्ड पंचो के शनिवार, 24 जनवरी को शांतिपूर्ण ढंग से मतदान सम्पन्न हुआ है।
पंच एवं सरपंच के चुनाव में जिला परिषद् एवं पंचायत समिति सदस्यों की तुलना में मतदाताओं में भारी उत्साह देखा गया। महिला मतदाताओं ने भी बढचढ कर मतदान में हिस्सा लेकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सषक्त पंचायततन्त्र के प्रति अपनी सहभागिता दर्ज कराई।
जिला निर्वाचन अधिकारी एन.एल. मीना एवं पुलिस अधीक्षक डाॅ. राजीव पचार ने मतदान के दिवस समय-समय पर एरिया मजिस्टेªट, जोनल मजिस्टेªट एवं पुलिस अधिकारियों से मतदान व्यवस्थाओं की जानकारी लेते रहे एवं सूचनाएं प्राप्त की।
जिला निर्वाचन अधिकारी (कलक्टर) एन.एल मीना ने बताया कि द्वितीय चरण में पंच एवं सरपंचों के चुनाव में स्थापित मतदान केन्द्रो पर मतदाताओं ने भारी उत्साह दिखाया एवं अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदाता सुबह से ही मतदान केन्द्रो पर पहुच कर लाईन में खडे होकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे थे। महिला मतदाता भी सजधज कर एवं अपने नन्हें मुन्ने बच्चों को गोंद में लेकर मतदान करने के लिए कतारबद्ध लाईनों में खडी थी। उनका प्रजातान्त्रिक अधिकार के प्रयोग के प्रति उत्साह झलक रहा था।
पंचायतीराज संस्थाओं के अन्तिम चरण में पंच एवं सरपंच के मतदान के दिवस सभी मतदान केन्द्रो पर पुलिस के पुख्ता प्रबन्ध होने के कारण कही पर भी कोई अप्रिय घटना घटित नही हुई एवं शांतिपूर्ण ढंग से मतदान सम्पन्न हुआ।
रिटर्निंग अधिकारी (एसडीएम) जैसलमेर डाॅ. जी.आर. वैष्णव ने भी मतदान के दिवस पूरे दिन अपने कार्यालय में बैठकर हर पल की सूचना प्राप्त की। रिटर्निंग अधिकारी एसडीएम पोकरण नरेन्द्रपालसिंह शेखावत एवं रिटर्निंग अधिकारी एसडीएम फतेहगढ जयसिंह ने भी द्वितीय चरण के मतदान के दिवस पूरे दिन हर पल की सूचना प्राप्त की एवं मतदान केन्द्रो का भी भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे।
मतदान के दिवस उपजिला निर्वाचन अधिकारी (एडीएम) भागीरथ शर्मा, एरिया मजिस्ट्रेट बलदेव सिंह उज्ज्वल, गजेन्द्र सिंह चारण के साथ ही अन्य एरिया मजिस्टेªट, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रभुदयाल धानिया, उपअधीक्षक पुलिस नरेन्द्र कुमार दवे, तहसीलदार पीतांबर राठी, तहसीलदार फतेहगढ धर्मदास गोरी, भणियाणा तहसीलदार पुखराज भार्गव के साथ ही पुलिस अधिकारियों एवं जोनल मजिस्ट्रेट ने भी क्षेत्र में सतत् रूप से भ्रमण किया एवं क्षेत्र में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखनें में अपनी अहम भूमिका निभाई। जहाॅं कही भी मतदान धीमी गति से होने या किसी प्रकार की तनातनी होने की सूचना मिलते ही जोनल एवं एरिया मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी संबंधित मतदान केन्द्र पर पहुंच कर स्थिति को संभाला एवं सुचारू रूप से मतदान करवाया।
मतदान के प्रति मतदाताओं में भारी जोष दिखाई दिया एवं मतदान केन्द्रो के बाहर झूूण्ड के झूण्ड बनाकर लोग एकत्रित थे एवं वे अपनी बारी के अनुसार मताधिकार का प्रयोग शांतिपूर्ण ढंग से कर रहे थे

वयोवृद्ध मतदाता भी अपना मताधिकार करने में पीछे नही रहे
पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव-2015 के अन्तिम चरण में पंच एवं सरपंच के शनिवार को हुए मतदान के दिवस वयोवृद्व मतदाताओं में भी मतदान के प्रति काफी उत्साह देखा गया। ग्राम पंचायत सिपला में स्थापित मतदान केन्द्र संख्या पर 92 वर्षीया श्रीमती चन्दना ने अपने पुत्र लखसिंह व 85 वर्षीय श्रीमती फूलो देवी अपने पुत्र लखसिंह तथा 87 वर्षीया श्रीमती लीला ने अपनी पुत्री श्रीमती बालू के सहयोग से मतदान केन्द्र पहुंचकर उत्साह के साथ अपना मत डाला एवं मत करने से पीछे नही रही।
इसी प्रकार ग्राम पंचायत पिथला में 85 वर्षीया श्रीमती बसन्त कंवर ने अपने पुत्र भेरूसिंह व 90 वर्षीय सोहन सिंह ने अपने पुत्र मूलसिंह के कंधे के सहारे मतदान केन्द्र पहुंचकर मतदान के प्रति उत्साह दिखाकर अपने मत का प्रयोग किया। इसी प्रकार भू मतदान केन्द्र पर 85 वर्षीय गुलाबनाथ ने अपने पुत्र बाबूनाथ के सहयोग से मतदान किया एवं प्रजातांत्रिक व्यवस्था के प्रति अपनी अटूट आस्था दिखाई। इसी प्रकार ग्राम पंचायत रामा के मतदान केन्द्र पर 82 वर्षीया श्रीमती गोदावरी देवी ने अपने पोते मदनलाल व पुत्रवधू मोतिया देवी के सहारे आकर मत डाला। यहां 92 वर्षीया श्रीमती सूखो ने अपनी पोती आसियत व भतीज हुरमत के सहयोग से उत्साह के साथ मतदान केन्द्र पर पहुंचकर अपने मत का प्रयोग किया एवं संदेष दिया कि मत का कितना महत्व है।
इसी प्रकार सीतोडाई मतदान केन्द्र पर 82 वर्षीय खेतसिंह, 90 वर्षीया श्रीमती किरण कंवर ने अपने पोते श्यामसिंह के सहारे से मतदान किया एवं मत करने से पीछे नही रही। यहां 96 वर्षीय सिकू खां ने अपने पोते जीवण खां के कंधे के सहारे मतदान केन्द्र पर पहुंचकर अपना मत डाला एवं मत करने से वंचित नही रहा।

नेत्रहीन मतदाताओं में भी दिखाई मतदान के प्रति विषेष रूची
शनिवार को मतदान के दिवस नेत्रहीन मतदाताओं ने भी मतदान के प्रति विषेष रूची दिखाई। नेत्रहीन मतदाताओं ने अपने रिष्तेदारों के सहयोग से अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतान्त्रिक व्यवस्था के प्रति अपनी आस्था जताई।
सीतोडाई मतदान केन्द्र पर नैत्रहीन 75 वर्षीया श्रीमती सूरजकंवर ने अपने परिजन के संग आकर अपना मत डाला एवं मत करने से वंचित नही रहा एवं यह भी संदेष दिया कि प्रजातांत्रिक व्यवस्था में मतदान का कितना महत्व है।

निःषक्त मतदाता भी मत करने से पीछे नही रहे
शनिवार को मतदान के दिवस निषक्त मतदाताओं ने भी मतदान के प्रति अपनी रूचि दिखाई एवं मत का प्रयोग किया। पिथला मतदान केन्द्र पर दोनो पैरो से पोलियोग्रस्त 22 वर्षीय बाबूसिंह पुत्र हुकमसिंह ने बैसाखी के सहारे अपने अमूल्य मत का प्रयोग किया एवं संदेष दिया कि मत के लिए शारीरिक निःषक्तता बाधित नही है एवं किसी के सहयोग से मत अवष्य ही करना चाहिए। इसी प्रकार सिपला मतदान केन्द्र पर एक पैर से विकलांग 35 वर्षीय गाजीखां ने अपना मत डालने से पीछे नही रहा वहीं रामा मतदान केन्द्र पर दोनो पैरो से विकलांग 65 वर्षीया श्रीमती अमरती जिसको उसके पुत्र हनुमान ने उसके साथी सहयोगी मोहनदान के कलाईयों में उठाकर मतदान केन्द्र लाएं एवं उसका मत डलवाया। इसी प्रकार मेघा निवासी 92 वर्षीया श्रीमती रूकमो जो कि शारीरिक रूप से निःषक्त है उसको भी उसके पोते वीरसिंह एवं स्वरूपसिंह ने कलाई में उठाकर मतदान केन्द्र लाएं एवं उसने अपने अमूल्य मत का प्रयोग किया। इसी प्रकार लकवाग्रस्त 70 वर्षीय श्रीमती अंतरकंवर ने अपनी पोती आसूकंवर के सहयोग से अपना वोट डाला। सीतोडाई मतदान केन्द्र पर 62 वर्षीया श्रीमती उम्मेदी जो दोनो पैरो से विकलांग है ने अपनी पुत्री स्वरूपा के सहारे से मतदान किया।

पहली बार मतदान करने का युवाओं को मिला अवसर , दिखाया उत्साह

पंचायतीराज संस्थाओं के आम चुनाव 2015 के लिए द्वितीय चरण में पंच एवं सरपंचो के लिए हुए मतदान के दिवस 18 वर्ष पूर्ण करने वाले युवा मतदाताओं का मतदान के प्रति उत्साह दिखाई दिया। युवा मतदाताओं ने पहली बार अपने मत का प्रयोग किया तो वे अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहे थे।

ग्राम पंचायत सिपला मतदान केन्द्र पर 18 वर्षीय दुर्जनसिंह, 19 वर्षीया श्रीमती मदीना एवं 18 वर्षीया कुमारी रहीमा जिसका पहली बार मतदाता सूची में नाम जुडने के कारण उसने पहली बार मतदान का प्रयोग कर अपने आप को गौरवान्वित महसूस किया। इसी प्रकार भू मतदान केन्द्र पर आसवा के 18 वर्षीय मोरण खां, 19 वर्षीय मुहरदीन, 18 वर्षीय जैना व सुभाना ने पहली बार मताधिकार का प्रयोग कर प्रजातांत्रिक प्रक्रिया में अपनी सहभागिता दर्ज कराई। इसी प्रकार नरसिंगो की ढाणी मतदान केन्द्र पर 18 वर्षीय तनेरावसिंह ने पहली बार उत्साह के साथ अपने मत का प्रयोग किया एवं प्रजातान्त्रिक व्यवस्था में अपनी सहभागिता दर्ज कराई।

चुनाव पर्यवेक्षक पुरोहित ने मतदान प्रक्रिया का किया निरीक्षण,

देखी मतदान व्यवस्थाएं
राज्य निर्वाचन आयोग जिले में नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षक एवं राजस्व अपील अधिकारी जोधपुर जे.सी. पुरोहित ने शनिवार, 24 जनवरी को मतदान के दिवस पंचायतीराज संस्थाओं के अन्तिम चरण के पंच/सरपंचो के चुनाव के दौरान विभिन्न मतदान केन्द्रो का औचक निरीक्षण कर जिला निर्वाचन विभाग द्वारा मतदान प्रक्रिया के लिए की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने मतदान प्रक्रिया व्यवस्था को भी देखा वहीं सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंधों का भी अवलोकन किया। निर्वाचन विभाग द्धारा की गई मतदान व्यवस्थाओं के प्रति संतोष भी दर्षाया। उन्होंने मतदाताओं से भी निर्वाचन विभाग द्वारा भयमुक्त एवं निष्पक्ष रूप से मतदान करने के लिए की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली वहीं पहचान के रूप में लाए गए दस्तावेजो को भी देखा।
चुनाव पर्यवेक्षक पुरोहित ने ग्राम पंचायत बडाबाग, अमरसागर, बरमसर, देवा, छत्रैल, दामोदरा, कनोई, हाबूर, सोनू एवं तनोट मतदान केन्द्रो का औचक निरीक्षण किया एवं मतदान व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top