मरू विकास बोर्ड के गठन से बाड़मेरकी फिजा बदलेगी - चौधरी 
बाडमेर।
जिले के प्रभारी मंत्री तथा राजस्व एवं उपनिवेशन मंत्री अमराराम चौधरी ने कहा है। कि बाड़मेर व जैसलमेर जिलों में मरू विकास बोर्ड के गठन के पश्चात् यहां आने वाले समय में अभूतपूर्व विकास होगा। वह बुधवार को सूचना केन्द्र में राज्य सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों के बारें में आयोजित पत्रकार वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे।
इस अवसर पर चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार रेगिस्तानी तथा सीमावर्ती जिलों के विकास को कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि नव गठित मरू विकास बोर्ड का मुख्यालय बाड़मेर में होने से जिले में प्रशासनिक ढाचा मजबूत होगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि बाड़मेर में मेडिकल काॅलेज खोला जाएगा तथा इससे संलग्न एक अस्पताल भी स्थापित होने से यहां चिकित्सा सुविधाओं में बढोतरी होगी। इसके लिए सरकार ने जमीन का भी आंवटन कर दिया गया हैं। इस मेडीकल काॅलेज पर 189 करोड़ खर्च किए जाएगे।
उन्होने कहा कि राज्य सरकार ने एक वर्ष में विकास के क्षेत्र में कई कीर्तिमान स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में आमजन की समस्याओं का ग्राम पंचायत स्तर पर निराकरण करने के लिए सरकार आपके द्वार कार्यक्रम की अनूठी पहल की है जिससे आमजन को बहुत बडी राहत मिली हैं। उन्होंने कहा कि जिले में अकाल प्रबंधन, शुद्व पेयजल उपलब्ध कराना सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि एक वर्ष के कार्यकाल में चुनावो के दौरान लंबे समय तक आचारसंहिता के बावजूद भी सरकार ने विभिन्न क्षेत्रों में अनेको विकास कार्य करवाए हैं।
प्रभारी मंत्री चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर सीनियर हायर सैकण्डरी स्कूल प्रारंभ की हैं। वहीं प्रत्येक ग्राम पंचायतो पर एक गौरव पथ का भी निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए भामाशाह योजना का संचालन किया जा रहा है जिससे महिला मुखिया के नाम से बैंक में खाते खोले जा रहे है। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत प्रदेश में भी स्वच्छता अभियान पर विशेष कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के प्रयासो से उर्जा के क्षेत्र में हम इतने आत्मनिर्भर हो गए है कि हम दूसरे प्रांतो को भी बिजली देने की स्थिति में आ गए है। उन्होंने कहा कि सौर उर्जा नीति पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि अकाल प्रबंधन में पशु शिविरों एवं चारा डिपो के चालू करने के कारण पशुपालको को बहुत बडी राहत मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि जैसलमेर से बाडमेर एवं जैसलमेर से बीकानेर फोरलाईन सडक मार्ग की स्वीकृति राज्य सरकार ने प्रदान कर दी है। इससे आने वाले समय में यातायात परिवहन सुगम होगा।
उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी समन्वित रूप से कार्य करके जिले के चहुॅमुखी विकास में अपना पूरा योगदान दे। उन्होंने सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल सफलतापूर्वक पूर्ण होने पर सभी को बधाई दी एवं विश्वास दिलाया कि आने वाले समय में बाड़मेर का और अधिक विकास किया जाएगा। पत्रकार वार्ता के दौरान पूर्व विधायक जालमसिंह रावलोत, जिला कलेक्टर मधुसूदन शर्मा भी मौजूद थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT © 2013-14. All Rights Reserved.
Top