बाड़मेर जिला चिकित्सालय होगा लपकों से मुक्त
बाडमेर
जिला मुख्यालय पर स्थित जिले का सबसे बडा राजकीय चिकित्सालय समेत प्रमुख कस्बों में स्थित चिकित्सालयों को लपकों से मुक्त किया जाएगा। जिला कलेक्टर मधुसूदन शर्मा ने सोमवार को अपने कक्ष में साप्ताहिक बैठक के दौरान ऐसे लोगों को सूचीबद्ध करने की हिदायत दी।
इस मौके पर जिला कलेक्टर ने कहा कि जिला चिकित्सालय समेत प्रमुख कस्बों के अस्पतालों में प्रायः दवाइयों तथा जाॅचों की प्रमुख दुकानों के प्रतिनिधि घूमते रहते है तथा जैसे ही कोई मरीज चिकित्सक के कमरे से परामर्श लेकर निकलता है तो ये उसे लपक लेते है तथा झांसा देकर अपनी दवाईयों व जाॅचों के लिए ले जाते है। जबकि मरीज कई बार अज्ञानवश सरकारी मुफ्त जाॅचों व दवाईयों से वंचित रह जाता है। ऐसे में सरकार की योजनाओं का लाभ आम आदमी को नहीं मिल पाता है। जिला कलेक्टर ने प्रमुख चिकित्सा अधिकारी बाडमेर तथा बालोतरा व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को प्रमुख कस्बों में घूमने वाले उन लपकों को चिन्हित कर सूचीयां जिला प्रशासन को उपलब्ध कराने की हिदायत दी ताकि उनके विरूद्ध कडी कार्यवाही की जा सकें। उन्होने बताया कि कई बार तो ये लपके डाक्टर के कक्ष में खडे रहते है ऐसे में संबंधित डाक्टर को भी पाबन्द किया जाए।
शर्मा ने चिकित्सा योजनाओं की समीक्षा के दौरान परिवार कल्याण की धीमी प्रगति पर असन्तोष जताते हुए इसमें और तेजी लाने की हिदायत दी तथा परिवार कल्याण के लक्ष्यों की मासिक माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए। बैठक में मौसमी बीमारियों, मलेरिया, मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना आदि की समीक्षा की गई।
जिला कलेक्टर ने जिला मुख्यालय पर सफाई व्यवस्था में माकूल सुधार के निर्देश दिए। उन्होने रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था में कार्मिक बढाने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होने रात्रिकालीन प्रकाश व्यवस्था दुरस्त करने तथा मृत जानवरों को शिकायत के बावजूद नहीं हटाने पर संबंधित ठेकेदार के विरूद्ध कार्यवाही करने को कहा। उन्होने सिणधरी चैराहें पर सडक का पेचवर्क करने एवं निर्माणाधीन कार्य को शीध्र पूर्ण करने के निर्देश दिए।
इस मौके पर जिला कलक्टर ने जलापूर्ति की समीक्षा के दौरान पेयजल आपूर्ति की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली तथा जिले के अभावग्रस्त क्षेत्रों गडरारोड तथा रामसर में पेयजल परिवहन के पुख्ता प्रबन्ध करने को कहा। बिजली आपूर्ति की समीक्षा के दौरान शर्मा ने बकाया विद्युत कनेक्शनों को तुरन्त जारी करने को कहा तथा सरकार के निर्धारित मापदण्डों के अनुसार किसानों को नियत समय पर बिजली आपूर्ति करने को कहा ताकि रबी की फसल में व्यवधान नहीं पहुंचे। 
इससे पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर हरभान मीणा ने विभागों के साप्ताहिक प्रतिवेदन के बारे में जानकारी दी। बैठक में भूमि अवाप्ति अधिकारी नखतदान बारहठ, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुनील कुमार सिंह बिष्ट, नगर परिषद आयुक्त धर्मपाल जाट, अधीक्षण अभियन्ता डिस्काॅम प्रेमजीत तथा जलदाय नेमाराम परिहार, जन सम्पर्क अधिकारी श्रवण चैधरी समेत नगर परिषद, पानी, बिजली, चिकित्सा से संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top