बाड़मेर चुनाव प्रचार थमा, मतदान दल कल होगे रवाना 

बाडमेर, 
नगर निकाय निर्वाचन 2014 के तहत प्रचार कार्य गुरूवार सायं 6.00 बजे से समाप्त हो गया। वहीं शुक्रवार को मतदान दल मतदान केन्द्रों के लिए रवाना होंगे। मतदान शनिवार को होगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी मधुसूदन शर्मा के अनुसार प्रचार अवधि समाप्त होने के बाद कोई भी राजनीतिक सभा या रैली नहीं हो सकेगी। मतदान समाप्त होने के समय से 48 घण्टे पूर्व की अवधि गुरूवार को सायं 6.00 बजे से मतदान के दिन शनिवार को सायं 6.00 बजे के दौरान मदिरा, शराब या अन्य मादक पदार्थों का विक्रय तथा वितरण करना दण्डनीय अपराध होगा। इसी प्रकार निर्वाचन के संबंध में सार्वजनिक सभा या जुलूस आयोजित करना या उसमें उपस्थित रहना या सम्बोधित करना भी प्रतिबंधित रहेगा। इसी तरह सिनेमा या टेलीविजन, रेडियों या ऐसे ही अन्य किसी उपकरण या इलेक्ट्रोनिक मीडिया के माध्यम से भी चुनाव प्रचार करना तथा एसएमएस या मोबाईल फोन के जरिये चुनाव प्रचार-प्रसार करना दण्डनीय अपराध होगा। यदि चुनाव प्रचार बन्द होने के बाद भी किसी राजनीतिक दल या अभ्यर्थी की ओर से एसएमएस किसी व्यक्ति को प्राप्त होता है या आपतिजनक सन्देश प्राप्त होता है तो उस सन्देश के टेक्ट को भेजने वाले के मोबाईल नम्बर के साथ पुलिस को अग्रेषित किया जा सकता है ताकि भेजने वाले पर कानूनी कार्यवाही हो सकें।
जिला निर्वाचन अधिकारी शर्मा ने बताया कि उक्त अवधि में संगीत समारोह या नाटय अभिनय या कोई अन्य मनोरंजन कार्यक्रम आयोजित कर चुनाव प्रचार प्रसार करना भी दण्डनीय अपराध होगा। इसी प्रकार किसी व्यवसाय, औद्योगिक उपक्रम आदि या किसी अन्य कारोबार में कार्यरत प्रत्येक व्यक्ति को मतदान दिवस को मतदान करने के लिए सवैतनिक अवकाश दिया जाएगा। नियोक्ता द्वारा ऐसा नहीं करने पर उसे जुर्माने की सजा से दण्डित किया जा सकता है। 
इस बीच नगर निकाय चुनाव के तहत शनिवार को होने वाले मतदान के पश्चात् मतगणना के लिए कार्मिकों को गुरूवार को प्रशिक्षण प्रदान किया गया। बाडमेर नगर परिषद के मतों की गणना के लिए कार्मिकों को कलेक्ट्रेट सभागार तथा बालोतरा नगर परिषद के मतों की गणना के लिए कार्मिकों को पंचायत समिति बालोतरा के सभागार में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इसमें गणना पर्यवेक्षकों तथा गणन सहायकों ने भाग लिया। 
इस अवसर पर मतगणना कार्मिकों से निष्पक्षता एवं सक्रियता का परिचय मतगणना के दौरान देने तथा सम्पूर्ण चुनाव प्रक्रिया में मतगणना सर्वाधिक महत्वपूर्ण भाग होता है तथा इस पर सबकी निकाहें होती है, इससे जुडे कार्मिक पूर्ण सावधानी एवं जिम्मेदारी पूर्वक अपने कार्य को अंजाम देने हेतु इसकी बारीकियों को भली भांति समझ लेने की हिदायत दी गई। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT © 2013-14. All Rights Reserved.
Top