जिला कलक्टर मीना एवं पुलिस अधीक्षक शर्मा ने की मंगला आरती

बाबा के बीज पर उमड़ा आस्था का ज्वार ,रिकार्ड तोड़ आए मेलार्थी

जैसलमेर रामदेवरा , 27 अगस्त/ द्वारकाधीश भगवान श्रीकृष्ण के कुलयुगी अवतार बाबा रामदेव की अवतरण तिथि भादवा-शुक्ला द्वितीया के उपलक्ष में बाबा की कर्मस्थली रामदेवरा में ब्रहम मुहर्त में सम्पन्न हुई मंगला आरती के अवसर पर बाबा की समाधी के मस्तक पर स्वर्ण मुकूट प्रतिष्ठापन्न के साथ 630 वाॅं अंतर प्रांतीय बाबा रामदेवरा मेला बुधवार, 27 अगस्त से विधिवत् रूप प्रारम्भ हो गया है। देश के पश्चिमी अंचल के कुम्भ माने जाने वाले सुविख्यात मेले के शुभारम्भ अवसर पर जिला कलक्टर एन.एल.मीना एवं जिला पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा , बाबा के वंषज और गादीपति भोंमसिंह तँवर , ने बाबा रामदेव जी की समाधी की पूजा-अर्चना की एवम् देश व प्रदेश में खुशहाली की कामना की।

जिला कलक्टर मीना , पुलिस अधीक्षक शर्मा , पूर्व विधायक गोपाराम मेघवाल ने श्रृद्धाभावना सहित बाबा रामदेव जी की समाधी के दर्शन किए तथा समाधी का पंचामृत से अभिषेक किया । उन्होंने समाधी पर इत्र एवं प्रसाद चढ़ाया एवं समाधी पर चंवर ढुलाया तथा बाबा के अखण्ड जौत के दर्शन किए एवं मंदिर परिसर का भ्रमण कर मेला व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

मंगला आरती के अवसर पर दूध , दही , सहद ,इत्र एवं पंचामृत से अभिषेक किया गया। बाबा को मेवा मिष्ठान एवं मिश्री का भोग लगाया गया। पूजारी कमल छंगाणी ,ओम शर्मा के साथ ही बाबा के वंषज तँवर समाज के गणमान्य नागरिक भी मंगला आरती के अवसर पर उपस्थित थे। बाबा की समाधी पर नई चादर चढ़ाई गयी एवं बुधवार को प्रातः बाबा की भोग आरती की गई।

मंगला आरती के दौरान समिति के पूजारी कमल छंगाणी ने जिला कलक्टर मीना एवं पुलिस अधीक्षक शर्मा से शास्त्रोक्त विधि से पूजा-अर्चना करायी। बाबा की समाधी पर चढ़ाये गये मुकूट के केषर से तिलक लगाया गया एवं बाबा की समाधी पर चढ़ाई गई मालाएं इन अतिथियों को पहनाई गई।

सहायक मेलाधिकारी एवं तहसीलदार पोकरण सुभाष हेमानी , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक फलौदी एवं कानून व्यवस्था के प्रभारी रमेष मोर्य ,सहायक मेलाधिकारी एवं विकास अधिकारी नारायणलाल सुथार , तहसीलदार भणियांणा पुखराज भार्गव ,सरपंच रामदेवरा भोमाराम मेघवाल , ग्रामसेवक मोतीराम ,पटवारी रामदेवरा गोकुलराम के साथ ही मंदिर समिति के पदाधिकारीगण भी मंगला आरती के समय उपस्थित थे एवं उन्होंने बाबा की अखण्ड जौत के दर्शन किए एवम् समाधी के आगे नतमष्तक होकर नमन् किया।

मंगला आरती के अवसर पर मंदिर के प्रमुख प्रवेश द्वार के खुलते ही मेलार्थी बाबा के जयकारे लगाते हुए बड़े उत्साह के साथ निज मंदिर में प्रवेश किया। अनेक श्रृद्धालुओं ने बाबा की बीज के अवसर पर अपने ईष्टदेव के दर्शन कर अपने आप को धन्य महसूस किया। श्रृद्धालूगण बाबा की अवतरण तिथि भादवासुदी बीज के अवसर पर ईष्ट देव के दर्शन करने के लिये रात्रि में ही बैरीकेटिंग के मध्य डेरा जमाए रखा था।

--000--













जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने पांच कि.मी.पैदल चल कर

कतार में खड़े श्रृद्धालुओं की ली सुध ,देखी व्यवस्थाएँ

रौषनी के पुख्ता प्रबन्ध के दिए निर्देष

जिला कलक्टर ने मंदिर परिसर एवं रामसरोवर पाल पर देखी व्यवस्थाएँ

कम से कम समय में श्रृद्धालुओं को दर्षन करवाने के दिये निर्देष

सफाई व्यवस्था को ओर अधिक सुचारु रुप से कराने के दिए निर्देष



रामदेवरा , 27 अगस्त/ जिला कलक्टर जैसलमेर एन.एल.मीना एवं पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने बुधवार को प्रातः 4 बजे मंगला आरती के पष्चात निज मंदिर से 5 किलोमीटर तक लम्बी लाईन में खड़े बाबा के भक्तजनों की पैदल चल कर उनकी सुध ली एवं मेला प्रषासन द्वारा उनके लिए पानी ,बिजली ,छाया एवं बैरीकेटिंग की गई व्यवस्थाओं को बारीकी से देखा। उन्होंने प्रातः 4ः30 बजे पांच किलोमीटर पैदल चल कर वीरमदेवरा फाटक से आगे लगभग एक किलोमीटर से अधिक लगी लम्बी लाईन के अंतिम छौर तक पहुंच कर व्यवस्थाओं को देखा एवं बाबा के भक्तों को शांतिपूर्ण ढंग से बारी के अनुरुप दर्षन करने की अपील की। मेले में भादवा शुक्ला द्वितीया पर पहली बार रिकार्ड तोड़ दर्षनार्थियों की भीड़ रही।

जिला कलक्टर मीना ने मेलाधिकारी कार्यालय में मेला व्यवस्थाओं से जुड़े अधिकारियों की बैठक ली एवं निर्देष दिए कि कम से कम समय में बाबा के भक्तजनों को समाधी के सुगमतापूर्वक दर्षन कराएं। उन्होंने नोखा धर्मषाला से वीरमदेवरा फाटक से आगे रात्री मे लाईट की व्यवस्था का पुख्ता प्रबंध तहसीलदार एवं विकास अधिकारी को करवाने के निर्देष दिए। उन्होंने मंदिर समिति के पूजारी कमल छंगाणी को पूजारियों की संख्या बढ़ा कर 22 घण्टे मंदिर खुला रख कर दर्षनार्थियों को रामसापीर की समाधी के दर्षन कराने की व्यवस्था करने के निर्देष दिए।

जिला पुलिस अधीक्षक शर्मा ने कानून व्यवस्था के लिए तैनात अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रमेष मोर्य को निर्देष दिए कि वे निज मंदिर में लगे पुलिस अधिकारियों एवं सुरक्षा कर्मियो को लाई में लगे भक्तजनों को तीव्र गति से दर्षन करवाने के निर्देष दिए ताकि लम्बी लाईन में खड़े दर्षनार्थियों को 8-10 घण्टे में दर्षन की व्यवस्था हो सकें। उन्होंने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रखने के भी निर्देष दिये।

जिला कलक्टर मीना ने रामसरोवर तालाब की पाल पर जाकर व्यवस्थाओ का जायजा लिया। उन्होंने विकास अधिकारी नारायणलाल सुथार व मंदिर समिति के पूजारी को तालाब की पाल पर लाईट की ओर अधिक अच्छी व्यवस्था करने एवं सफाई व्यवस्था सुचारु रुप से कराने के निर्देष दिए।इस बार बरसात की कमी के कारण रामसरोवर तालाब मे पानी की कम मात्रा थी उसके बावजूद भी वहां तैराकों को सतर्कता बरतने के निर्देष दिए ताकि डूबने की कोई घटना घटित न हो।

जिला कलक्टर मीना ने सहायक मेलाधिकारी सुभाष हेमानी एवं विकास अधिकारी सुथार को निर्देष दिए कि वे मेले में सभी जोनों ने सफाई व्यवस्था पर विषेष ध्यान दें एवं जोनवार सफाई ठेकेदार को पाबंद करें कि सफाई व्यवस्था में किसी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरते। उन्होंने कचरा संग्रहण को नियमित रुप से कम से कम समय में उठाने के निर्देष दिए। उन्होंने वी.आई.पी रोड़ को एकदम साफ-सुथरा रखने के निर्देष दिए।













जिला कलक्टर ने बाबा की बीज पर भारी मात्रा में दर्षनार्थियों की भीड़ को दृष्टिगत रखते हुए अधिषाषी अभियंता जलदाय पोकरण पराग स्वामी को निर्देष दिए कि कतार में खड़े श्रृद्धालुओं को पीने के पानी की समुचित व्यवस्था कराएँ। उन्होंने टूंटियाँ लगे हुए टैंकर लाईन के अंतिम छौर तक खड़े करवा कर एवं लाईन में रखे पानी के ड्रमों को नियमित रुप से भरवा कर दर्षनार्थियों के पीने के पानी की व्यवस्था पर्याप्त मात्रा में लाईन में खड़े भक्तजनों को इस भीषण गर्मी में पीने का पानी समय -समय पर मिलता रहे। उन्होंने मेले के दौरान खाद्य सामग्री की नियमित रुप से सैम्पल जांच कराने के निर्देष दिए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top