छोटे हाइडल प्रोजेक्ट भी करेंगे स्थानीय स्तर पर बिजली की पूर्ति -मुख्यमंत्री
जयपुर, 
मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने प्रदेश की पेयजल, सिंचाई और बिजली की मांग की पूर्ति के लिए जल प्रबंधन की समन्वित योजना बनाने के निर्देश दिए, ताकि पूरे वर्ष पेयजल उपलब्ध रहे और छोटे हाइडल प्रोजेक्ट के माध्यम से बिजली का उत्पादन कर स्थानीय मांग को पूरा किया जा सके। इसके अलावा इस जल से सिंचाई भी की जा सके। उन्होंने नदियों व अन्य जलस्रोतों को जोडऩे की राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के तहत पूरे राजस्थान के लिए स्टेट वाटर ग्रिड का प्लान तैयार करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए।
श्रीमती राजे बुधवार को सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के अन्तर्गत बांसवाड़ा के माही बांध का अवलोकन रही थी। उन्होंने सिंचाई, जलदाय और ऊर्जा विभाग के अधिकारियों का संयुक्त दल बनाकर प्रदेश में जल प्रबंधन की ऐसी संभावनाओं को तलाश कर कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वे माही व चम्बल नदियों के प्रवाह क्षेत्र में सिंचाई, पेयजल तथा ऊर्जा की आवश्यकता के लिए भी पानी की उपलब्धता का आंकलन करें और इस संबंध में अलग-अलग मैप तैयार कर एक वृहद कार्य योजना बनाएं।

अच्छे दिन आयेंगे, लेकिन मेहनत करनी पड़ेगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छे दिनों के लिए सबको मेहनत करनी होगी। खासकर कर्मचारियों और अधिकारियों को प्रदेश की जनता के अच्छे दिनों के लिए कमर कसनी होगी। दो साल हम सबको कठोर परिश्रम करना होगा, तब जाकर तीसरे चौथे साल प्रदेश विकास की ओर बढऩे लगेगा। उन्होंने कहा कि उनके हाथ में जादू नहीं है जो एक दिन में ही सब कुछ बदल दें। बदलाव के लिए धैर्य रखना होगा। 60 साल में अगर जनता को सुना होता तो आज ये स्थिति पैदा नहीं होती। वे जनसुनवाई के बाद राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय घाटोल के प्रांगण में सम्बोधित कर रही थी।

जनसुनवाई में भीड़ नहीं होगी, तब ही खुशी होगी

श्रीमती राजे ने कहा कि जब उनकी जनसुनवाई में कम से कम लोग आयेंगे, तब ही उन्हें खुशी होगी, लेकिन ऐसा तब होगा, जब स्थानीय स्तर पर ही समस्याओं का निदान हो पायेगा। आज लोग छोटे-छोटे कामों के लिए ही मुख्यमंत्री तक क्यों पहुंच रहे हैं? इस बात को अधिकारियों को गंभीरता से लेना होगा।

बैंक जायेगा महिलाओं के पास

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने महिलाओं को अपने पांव पर खड़ा करने के लिए भामाशाह योजना शुरू कर दी है, लेकिन इसका लाभ तब ही मिलेगा, जब सब महिला बहने भामाशाह कार्ड बनवायेगी, अपना बैंक खाता खुलवायेगी। महिलाओं के लिए बार हमारी सरकार ने खास सुविधा का ध्यान रखा है। जिस गांव में बैंक नहीं होगा या जो महिला बैंक जाकर अपना खाता नहीं खुला पायेगी, उसके घर खुद बैंक चलकर आयेगा और उसका खाता खोलेगा।

सैल्फ एम्प्लॉयमेंट समय की मांग

श्रीमती राजे ने कहा कि 15 लाख लोगों को रोजगार देने का वादा उनकी सरकार पूरा करेगी, लेकिन इसके लिए युवाओं को निजी क्षेत्रें के लिए भी उनकी सरकार आजीविका मिशन के माध्यम से तैयार करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी को सरकारी नौकरी नहीं मिल सकती, इसलिये युवाओं को प्रशिक्षण पाकर निजी क्षेत्रों में भी जाना चाहिए और समय की मांग के अनुसार सैल्फ एम्प्लॉयमेंट की ओर बढऩा चाहिए।

राशन की दुकानों का होगा आधुनिकीकरण

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की 27 हजार राशन की दुकानों का उनकी सरकार आधुनिकीकरण करेगी, जिससे एक ही छत के नीचे लोगों को राशन सामग्री के साथ-साथ अन्य जरूरत की वस्तुएं भी वाजिब मूल्य पर मिल सकेगी। इन दुकानों पर आवश्यक वस्तुओं के साथ-साथ खाद बीज और मिनी बैंक की सुविधा भी उपलब्ध कराने के प्रयास किये जायेंगे।

अपने घर के बाहर सफाई खुद करें

श्रीमती राजे ने कहा कि बदलाव हमें अपने घर से शुरू करना पड़ेगा। पहले खुद के घर की सफाई करनी पड़ेगी। उसके बाद अपनी दुकान का कचरा साफ करना होगा। उन्होंने कहा कि हमें हमारे घर और अपने प्रतिष्ठान के सामने सफाई में शर्म नहीं आनी चाहिए। तब ही जाकर हम स्वच्छ राजस्थान का सपना साकार कर पायेंगे।

मुख्यमंत्री ने चखी दाल-रोटी

मुख्यमंत्री ने बांसवाड़ा से घाटोल जाते समय तलवाड़ा पंचायत समिति के डागला गांव में मां-बाड़ी केन्द्र (डे-केयर सेंटर) का औचक निरीक्षण किया। श्रीमती राजे करीब आधा घंटे तक इस केन्द्र पर रूकीं। इस केन्द्र में आने वाले पहली व दूसरी कक्षा के बच्चों खुशी, चायना, मितेश एवं गोविन्द को उन्होंने अपने पास बुलाया। श्रीमती राजे ने इन बच्चों से गिनती एवं पहाड़े सुनकर उनके बौद्घिक स्तर को जांचा तथा पाठ भी पढ़वाए।

मुख्यमंत्री ने बच्चों के लिए तैयार की गई दाल-रोटी भी चखी। पोषाहार की गुणवत्ता संतोषजनक नहीं पाए जाने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए खाना बनाने वाले को आज ही बदलने के निर्देश दिए। उन्होंने इस केन्द्र की अध्यापिका सुनीता गर्ग एवं माधुरी म्यावत से बच्चों की पढ़ाई के संबंध में जानकारी ली।



रामदेवरा जा रहे यात्रियों से मुलाकात

बांसवाड़ा से घाटोल के रास्ते में जाते समय डागला गांव में मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे से रामदेवरा जा रहे 60 यात्रियों के एक दल ने मुलाकात की। श्रीमती राजे ने इन सभी श्रद्घालुओं को उनकी यात्रा के लिए शुभकामनाएं दी तथा बाबा रामदेवरा के चरणों में अपनी ओर से भी श्रीफल भेंट करने का आग्रह किया। इन यात्रियों से कहा कि लोक देवता रामसा पीर में उनकी भी गहरी आस्था है। श्रीमती राजे को सोहन, विठ्ठल, कचरू, अमरू आदि यात्रियों ने बताया कि उनके साथ पानी वाला, गढ़ा, रोजा चूडिय़ावास आदि गांवों से 60 स्त्री-पुरूष रामदेवरा जा रहे हैं।

सेनावासा में अद्र्घनिर्मित छात्रावास का निरीक्षण

मुख्यमंत्री ने सेनावासा गांव में समाज कल्याण विभाग के अद्घनिर्मित छात्रवास का निरीक्षण किया। इस छात्रवास का निर्माण कार्य 2004 में आरम्भ हुआ था और 20 लाख रुपये की स्वीकृत राशि के मुकाबले 23 लाख रुपये खर्च होने के बाद भी अभी तक निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ है। इसमें 9 कमरें बने है। श्रीमती राजे ने इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि इस निर्माण कार्य के बिल कैसे पास हो गए। उन्होंने इस प्रकरण में पंचायत स्तर के कर्मचारी को दण्डित करने के बजाय वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने मौके पर मौजूद जिला कलेक्टर को ऐसे सभी पुराने भवनों की सूची बनाने के निर्देश दिए, जो अनुपयोगी पड़े हैं या उपयोग के लायक नहीं हैं। उन्होंने ऐसी पानी की टंकियों को भी चिन्हित करने को कहा, जिनके निर्माण के बाद उनका कभी भी उपयोग नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि यह सरकारी धन का दुरूपयोग है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने जिला कलेक्टर को इस संबंध में विस्तृत रिपोर्ट शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

पड़ोली गोरधन में सैकेण्डरी स्कूल का निरीक्षण

मुख्यमंत्री ने पड़ोली गोरधन में राजकीय माध्यमिक विद्यालय का अचानक निरीक्षण किया। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि विद्यालय परिसर के जर्जर कमरों को गिराकर नए निर्माण कराए। श्रीमती राजे ने विद्यार्थियों के लिए पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए।

सशक्त बालिका, सशक्त राजस्थान का विमोचन

मुख्यमंत्री ने जनसुनवाई के बाद एक पोस्टर सशक्त बालिका, सशक्त राजस्थान का विमोचन किया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top