जसवंत को पार्टी का निर्णय स्वीकार कर लेना चाहिए था: राजनाथ
बाड़मेर
राजनाथ सिंह
बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने कहा है कि जसवंत सिंह को पार्टी के उस फैसले को स्वीकार कर लेना चाहिए था जिसमें उन्हें राजस्थान की बाड़मेर लोकसभा सीट से नहीं उतारने का निर्णय लिया गया था. क्योंकि टिकट का मुद्दा पार्टी में किसी की अहमियत का आधार नहीं हो सकता है.
पार्टी में वरिष्ठ नेताओं को दरकिनार किए जाने की बात को सिरे से खारिज करते हुए राजनाथ ने कहा कि अनुभवी एवं वरिष्ठ नेताओं के अनुभवों का उपयोग किया जाएगा, चाहे किसी को लोकसभा चुनाव लड़ने का मौका मिले या नहीं. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि निश्‍िचत तौर पर किसी को दरकिनार नहीं किया गया है. अगर किसी को टिकट नहीं मिला, इसका अर्थ यह नहीं है कि पार्टी में उसकी अहमियत नहीं है.
उन्हें संसद, विधानसभा या पार्टी में दायित्व सौंपा जा सकता है. अगर सरकार बनती है, तब विभिन्‍न संस्थाओं में दायित्व हैं. राजनाथ का ध्यान जसवंत सिंह के उस फैसले की ओर दिलाया गया था जब पार्टी द्वारा बाड़मेर से टिकट नहीं दिए जाने के बावजूद उन्‍होंने वहां से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन पत्र भरा और पार्टी ने उन्हें निष्कासित कर दिया.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top