दुर्ग में सीवरेज का कार्य बुधवार से प्रारम्भ करें

जैसलमेर, 
जिला कलक्टर, एन.एल. मीना ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे वर्षात एवं आंधी के कारण बिजली आपूर्ति बंद होने से जिले में पेयजल आपूर्ति प्रभावित हुई है उसे तत्काल चालू कर पेयजल आपूर्ति को सुचारू बनावें। उन्होने जैसलमेर शहर में भी नियमित जलापूर्ति प्रारम्भ करवाने के लिए सहायक अभियन्ता बी.पी. टेंक आर.के. सिंह को पुनः निर्देष दिये एवं यह भी हिदायत दी कि सैनिक विश्राम गृह में कल तक पानी आपूर्ति की व्यवस्था सुनिष्चित करें एवं साथ ही जहां भी पाईप लाईन चैक है उनको दूरस्त करने की कार्यवाही करें।
जिला कलक्टर मीना ने मंगलवार को कलक्टर सभागार में आयोजित पेयजल, विद्युत एवं सम सामयिक गतिविधियों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में यह निर्देष दिये। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर भागीरथ शर्मा के साथ ही विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। जिला कलक्टर ने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत जी.आर. सिरवी को निर्देष दिये कि जलदाय विभाग के जिन नलकूपों पर विद्युत आपूर्ति बाधित हुई है उन्हे तत्काल चालू करने की कार्यवाही करें ताकि पेयजल आपूर्ति निर्बाध बन सके। उन्होने अधीक्षण अभियन्ता जलदाय ताराचन्द कुलदीप को निर्देष दिये कि जिले में क्षतिग्रस्त जीएलआर के सम्बन्ध में प्रस्ताव तैयार कर उनकी और से शासकीय पत्र उच्च अधिकारियों को लिखावें। इसके साथ ही उन्होने पोकरण क्षेत्र में भी जलापूर्ति व्यवस्था को शीघ्र सुचारू बनाने के निर्देष दिये।
जिला कलक्टर ने आरयुआईडीपी के अधिषाषी अभियन्ता महेन्द्रसिंह पंवार को निर्देष दिये कि वे दुर्ग में सीवरेज का कार्य बुधवार को किसी भी सूरत में प्रारम्भ कर दें। उन्होने शहर में अन्य सीवरेज के कार्याें में भी गति लाने के निर्देष दिये। उन्होने अधिषाषी अभियन्ता नगर परिषद् लक्ष्मण पंवार को निर्देष दिये कि वे शहर में सफाई व्यवस्था में सुधार लायें वहीं नालियों की सफाई करावें। उन्होने बब्बर मगरा में एक सप्ताह में घरेलु पेयजल कनैक्षन जारी करने के निर्देष दिये।
उन्होने अधीक्षण अभियन्ता जलदाय को निर्देष दिये कि वे राहत मद से पानी के टेंकर उसी स्थानों पर भेजें जहां पर पानी की भारी समस्या हो एवं अन्य कोई दूसरा स्त्रौत नहीं हो। उन्होने एक सप्ताह में शहर में पाईप लाईन लिकेज को दुरस्त कराने की कार्यवाही करने एवं चैक पाईप लाईनों को सही करवाने के कडे़ निर्देष दिये। उन्होने स्वीकृत नलकूपों को समय पर खुदवाने की कार्यवाही एवं उसके बाद उसमें विद्युत कनैक्षन लेकर चालू करने की कार्यवाही करने पर विषेष जोर दिया ताकि इन नलकूपों से भी उस क्षेत्र में जलापूर्ति सुचारू बने।
जिला कलक्टर ने अधिषाषी अभियन्ता सार्वजनिक निर्माण विभाग को निर्देष दिये कि रामदेवरा मंें क्षतिग्रस्त सड़कों को नये रूप से स्वीकृत करवाकर उन सड़कों का कार्य कराने के निर्देष दिये वहीं गुरूद्वारा सड़क पर आई मिट्टी को हटाने की कार्यवाही करने के निर्देष दिये। उन्होने कार्यवाहक उपनिदेषक पषुपालन को निर्देष दिये कि वे मोबाईल पषु चिकित्सा टीम से बीमार पषुओं का उपचार करवाने की व्यवस्था करें।
उन्होने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.आर. नायक को निर्देष दिये कि वे मौसमी बिमारियों के प्राथमिक उपचार की तैयारी रखें एवं मच्छरों के प्रकोप के रोकथाम के लिए कीटनाषक स्प्रै की कार्यवाही करें। बैठक में अधिषाषी अभियन्ता, जलदाय मुकनेष व्यास, के.के. व्यास, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी ड़ाॅ. डी.डी. खींची, उप निदेषक पषुपालन ड़ाॅ. माथुर भी उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top