स्वरोजगार से आत्मनिर्भरता पाने युवा आगे आएं - डॉ. गिरिजा व्यास
प्रतापगढ़,
केन्द्रीय शहरी आवासन एवं गरीबी उपशमन मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास ने युवाओं से स्वरोजगारपरक गतिविधियों से जुड़कर आत्मनिर्भरता पाने के लिए पूरे मन से आगे आने और अपना हुनर निखारने का आह्वान किया है।
डॉ. गिरिजा व्यास ने सोमवार को प्रतापगढ़ के समीप वनदेवी पौधशाला में हाउसिंग एण्ड अर्बन डवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा कॉरपोरेट सोशल सिस्पोंसिबिलिटी के तहत सामाजिक एवं आर्थिक रूप से कमजोर (बीपीएल/अजा-जजा/ओबीसी) युवाओं के कुशल एवं सक्षम विकास के लिए प्रशिक्षण एवं रोजगार के अवसर निर्माण उद्योग विकास परिषद नई दिल्ली के माध्यम से बेरोजगार शिक्षित युवकों के लिए तीन माह के प्रशिक्षण शिविर के उद्घाटन अवसर पर प्रशिक्षणार्थियोें को संबोधित करते हुए यह आह्वान किया।
शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता जिला कलक्टर रतन लाहोटी ने की जबकि हुड़को जयपुर के रीजनल मैनेजर रामसिंह गुनावत, पूर्व नगरपालिकाध्यक्ष ओमप्रकाश ओझा, कृषि उपज मण्डी समिति के अध्यक्ष सुरेन्द्र चण्डालिया, सीआईडीसी नई दिल्ली के जनरल मैनेजर आर.के. मलिक एवं राजस्थान प्रभारी गणेश बिष्ट, समन्वयक सहायक प्रबंधक शिवराजसिंह, समाजसेवी श्रीमती लता शर्मा, लक्ष्मणसिंह, भूपेन्द्रसिंह पटवाल, गणेशलाल, केशरसिंह, वेलूराम, आदि अतिथिगण उपस्थित थे।

पूरा लाभ लेकर तकदीर सँवारें

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि, केन्द्रीय शहरी आवासन एवं गरीबी उपशमन मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास ने हुड़को और सीआईडीसी द्वारा राजमिस्त्री एवं इलेक्ट्रीशियन विधाओं में युवाओं को आईटीआई की तर्ज पर ही तीन माह में दक्षता प्रदान करने के शिविरों का पूरा-पूरा लाभ लेने का आह्वान संभागियों से किया। उन्होंने युवाओं से कहा कि वे वक्त के साथ चलें और जागरुकता के साथ खुद की तकदीर सँवारने के साथ ही भारत के भविष्य निर्माण में भी भागीदारी निभाएं।

डॉ. व्यास ने कहा कि जनजाति क्षेत्रों केे युवाओंं को स्वरोजगार के जरिये आत्मनिर्भरता से जोड़ने के लिए इन प्रशिक्षणों को स्थायी बनाने का आश्वासन दिया और कहा कि प्रशिक्षण पूरा कर लेने के उपरान्त युवाओं को आजीविका उपलब्ध कराने की दिशा में भी पूरी कोशिश की जाएगी।

केन्द्रीय मंत्री डॉ. व्यास ने स्ट्रीट वैण्डर्स के लिए बनाए गए कानून के बारे में भी विस्तार से चर्चा की और कहा कि इससे इन कामों से जुड़े लोगों को संरक्षण प्राप्त होगा तथा उनके विकास में आने वाली बाधाएं दूर होंगी। उन्होंने बताया कि इससे पांच करोड़ शहरी लोग लाभान्वित होंगे।

नियमित रूप से चलेगा प्रशिक्षणों का दौर

डॉ. व्यास ने बताया कि प्रतापगढ़ में शुरू हुए इस तीन माही प्रशिक्षण पर 70 लाख रुपए की धनराशि का प्रावधान है। यह तीन माह का प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रतापगढ़ में नियमित रूप से जारी रखा जाएगा। उन्होंने प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि वे मन लगाकर प्रशिक्षण पाएं तथा अपने हुनर में और अधिक दक्षता पाएं।

प्रतापगढ़ विकास में प्रभावी प्रयास

प्रतापगढ़ क्षेत्र के विकास की चर्चा करते हुए केन्द्रीय मंत्री डॉ. व्यास ने बताया कि शहरी आवासन एवं गरीबी उपशमन मंत्रालय की ओर से यहां 90 करोड़ की राजीव गांधी आवास योजना स्वीकृत है जबकि बीएमटीसी की ओर से गरीबों के लिए शहरी आवास उपलब्ध कराने की योजना में 24 आवास निर्माण का कार्य स्वीकृत है। इसके लिए प्रतापगढ़ में 2000 वर्ग मीटर भूमि चिह्नित भी की जा चुकी है।

डॉ. व्यास ने जानकारी दी कि प्रतापगढ़ में सीवरेज गतिविधियों के लिए 109.72 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई है इससे प्रतापगढ़ शहर का स्वरूप निखरेगा और उदयपुर के मुकाबले अच्छे शहर की पहचान बना पाएगा। उन्होंने बाय पास तथा अन्य विकास गतिविधियों पर भी प्रकाश डाला।

युवाओं के लिए वरदान हैं प्रशिक्षण

समारोह में अध्यक्षीय उद्बोधन में जिला कलक्टर रतन लाहोटी ने प्रतापगढ़ की विकास गतिविधियों पर प्रकाश डाला और बताया कि क्षेत्र में 24 मॉडल आवासोें के लिए भूमि का चयन कर लिया गया है। उन्होंने सामाजिक विकास तथा आत्मनिर्भरता के लिए स्वावलम्बन गतिविधियाेंं को जरूरी बताया और प्रतापगढ़ में शुरू हुए तीन माही प्रशिक्षण को स्थानीय युवाओं के लिए वरदान बताया।

स्थानीयों को मिलेगा पूरा लाभ

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में विभिन्न योजनाओं में सैकड़ों आवासों का निर्माण स्वीकृत है वहीं इस क्षेत्र में राजमिस्त्री, इलैक्ट्रीशियन तथा अन्य विधाओं में पारंगत लोगों की काफी आवश्यकता है जिससे रोजगार के उपलब्ध अपार अवसरों का लाभ लिया जा सकेगा।

केन्द्रीय मंत्री का आभार जताया

प्रतापगढ़ नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष ओमप्रकाश ओझा ने युवाओं से कहा कि वे अपना भविष्य सँवारने के प्रयासों का पूरा-पूरा लाभ लें तथा स्वावलम्बन को अपनाएं। उन्होंने इन विधाओं के लिए प्रतापगढ़ में प्रशिक्षण सुविधाओं हेतु केन्द्रीय मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास का आभार व्यक्त किया।
आरंभ में हुड़को जयपुर के रीजनल मैनेजर रामसिंह गुनावत ने अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रशिक्षण से संबंधित विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी।
इस दौरान केन्द्रीय मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास का शॉल ओढ़ाकर स्वागत-अभिनंदन किया गया जबकि अन्य अतिथियों का साफे बांधकर स्वागत किया गया। समारोह के अंत में सीआईडीसी, नई दिल्ली के जनरल मैनेजर आर.के. मलिक ने आभार प्रदर्शन की रस्म अदा की और बताया कि इस प्रकार के प्रशिक्षणों ने देश के विभिन्न हिस्सों में युवाओं का भविष्य सँवार दिया है।

प्रशिक्षण संस्थान का उद्घाटन

केन्द्रीय मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास ने पौध शाला में स्थापित प्रशिक्षण संस्थान का फीता काटकर शुभारंभ किया और प्रशिक्षण गतिविधियों से संबंधित चार्ट्स एवं व्यवस्थाओं का अवलोकन किया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top