विशेष योग्यजनों को स्वावलम्बी बनाने हेतु सामूहिक प्रयास जरूरी : चतुर्वेदी 
जयपुर। 
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्राी अरूण चतुर्वेदी ने कहा कि विशेष योग्यजनों को उनकी आवश्यकता के अनुसार उपकरण एवं अन्य सहायता उपलब्ध कराने के लिए समाज एवं सरकार को सामूहिक प्रयास करने के महत्ती आवश्यकता है ताकि वे समाज की मुख्यधारा से जुड़कर स्वावलम्बी जीवन जी सकें।
चतुर्वेदी शनिवार को जिले की जमवांरामगढ़ पंचायत समिति परिसर में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग एवं जिला प्रशासन के सौजन्य से आयोजित विशेष योग्यजन सहायता शिविर के उद्घाटन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार विशेष योग्यजनों एवं मानसिक रूप से विमन्दित व्यक्तियों को उनकी जरूरत के मुताविक हर संभव सहायता उपलब्ध कराने के लिए संवेदनशीलता से प्रयासरत है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के गांव-गांव में विशेष योग्यजनों एवं बुजुर्गों का सर्वे करवाया जाकर चिन्हित व्यक्तियों को आवश्यकतानुसार राज्य सरकार द्वारा सहायता मुहैया करायी जायेगी। उन्होंने क्षेत्राीय विधायक श्री जगदीश प्रसाद मीणा के आग्रह पर इस क्षेत्रा के पालनहार योजना में चयनित बालक-बालिकाओं को आगामी 7 दिवस में अनुदान राशि उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जमवांरामगढ़ विधायक मीणा ने क्षेत्रा की जनता की ओर से राज्य मंत्राी चतुर्वेदी का हार्दिक स्वागत करते हुए कहा कि जमवांरामगढ़ बांध की भराव क्षमता के अनुरूप वर्षा ऋतु में पानी की आवक में कमी होने को दृष्टिगत रखते हुए इस बांध के उत्तर दिशा में बहने वाली नदी से इस बांध में पानी लाने का प्रयास किया जाना चाहिए ताकि बांध में भराव क्षमता के अनुसार पानी का भराव हो सकेगा, जिससे इस क्षेत्रा के किसानों को सिंचाई की सुविधा मिलने के साथ-साथ जयपुर शहर को भी पीने का पानी मुहैया हो सकेगा।
कार्यक्रम में पंचायत समिति के प्रधान रघुवीर सिंह चैधरी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की योजनाओं का ग्रामीण क्षेत्रा में प्रचार-प्रसार के विशेष प्रयास किये जायें ताकि ग्रामीणों को विभाग की योजनाओं का भरपूर लाभ उठा सकें।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्राी अरूण चतुर्वेदी, विधायक मीणा, प्रमुख शासन सचिव डाॅ. मंनजीत सिंह, जिला कलेक्टर कृष्ण कुणाल, निदेशक, विशेष योग्यजन के.सी वर्मा, प्रधान चैधरी ने शिविर का भ्रमण कर विभिन्न विभागों द्वारा विशेष योग्यजनों की समस्याओं के निवारण एवं उन्हें सहायता उपलब्ध कराने की व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा सम्बंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किये। शिविर अवलोकन के दौरान प्रमुख शासन सचिव डाॅ. सिंह ने विभाग के उपनिदेशक श्री पी.एल. वर्मा को निर्देश दिये कि शिविर में आने वाले मानसिक रूप से विमंदित व्यक्तियों का पंजीकरण किया जाकर उन्हें जयपुर की सेठी काॅलोनी स्थित मानसिक विमंदित गृह में भिजवाएं ताकि उन्हें निःशुल्क ठहरने, भोजन, चिकित्सा आदि की सुविधा मुहैया करायी जा सकें।

राज्य मंत्राी चतुर्वेदी ने ट्राई साइकिल वितरित की
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्राी चतुर्वेदी ने इस शिविर में विशेष योग्यजनों को ट्राई साइकिलों का भी वितरण किया।
जिला कलेक्टर ने विशेष योग्यजन शिविर में विशेष योग्यजनों की समस्याओं को संवेदनशीलता से सुना और उन्हें मौके पर ही आवश्यकतानुसार उपकरण एवं राहत पहुंचाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश प्रदान किये।
विभाग के उप निदेशक वर्मा ने बताया कि शिविर में 40 विशेष योग्यजनों को ट्राई साइकिलों का वितरण किया गया तथा 17 को श्रवणयंत्रा, 22 बैसाखी के जोडे़, 9 को कैलीपर वितरित किये गये तथा 7 विशेष योग्यजनों के कृत्रिम पैर लगाए, 140 विशेष योग्यजनों को विकलांगता प्रमाण पत्रा एवं 85 मूल निवास प्रमाण पत्रा व 98 के रोडवेज पास बनाये तथा 8 विशेष योग्यजन पेंशन, 10 वृद्धावस्था पेंशन, एक विधवा पेंशन स्वीकृत की गयी। उन्होंने बताया कि 38 विशेष योग्यजनों के ऋण आवेदन पत्रा तैयार किये गये, एक को आस्था कार्ड जारी किया एवं पालनहार योजना के तहत 6 चयनित लाभार्थियों को पेंशन स्वीकृत की गयी। शिविर में 262 विशेष योग्यजनों का पंजीकरण किया गया।
इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी, तहसीलदार तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी विशेष योग्यजन एवं उनके परिजन जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top