अतिरिक्त आयुक्त ने न्यून शैक्षिक स्तर वाले विद्यालयों को कारण बताओं नोटिस 
बाड़मेर 
सत्र 2013-14 की शुरूआत में जुलाई, अगस्त दो माह में समस्त शिक्षा अधिकारियों ने कक्षा 3, 4 व 5 के विद्यार्थी भाषा और गणित की मूल अधिगम क्षेत्र पर जो समझ नहीं बना पाए हैं, उन्हें इन पर समझ बनाना एवं विद्यालयों में माहौल तैयार करना ताकि विद्यार्थी अपनी कक्षा के स्तर के अनुरूप क्षमताओें एवं अवधारणाओं को प्राप्त कर सकें। जिले की प्राथमिक, उच्च प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में उनकी वास्तविक शिक्षा की स्थिति समझने की दृष्टि से विद्यालय पर्यवेक्षण कार्यक्रम संबलन दिनांक 24, 25 सितम्बर 2013 में संपादित किया गया जिसमें राज्य स्तर, जिला स्तर एवं ब्लाॅक स्तर के अधिकारियों ने 202 चयनित विद्यालयों का निरीक्षण कर आॅन लाईन प्रतिवेदन परिषद कार्यालय, जयपुर को भिजवायें। उक्त प्रतिवेदन के विश्लेषण के आधार पर अतिरिक्त आयुक्त ने जिन विद्यालयों में शैक्षिक स्तर कमजोर पाया गया एवं औसत उपस्थिति राज्य में औसत उपस्थिति 73 प्रतिशत से कम पाये गये ब्लाॅक बीईईओ एवं प्रधानाध्यापकों को कारण बताओं नोटिस जारी किये हैं जिनमें जिले के 59 विद्यालयों को 7 दिवस में अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा गया हैं। साथ ही जिन विद्यालयों की स्थिति बेहतर पायी गई उनकों प्रंशसा पत्र परिषद स्तर से जारी किये गये हैं। अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक राजन कुमार शर्मा ने बताया कि जिन विद्यालयों में शैक्षिक स्तर कमजोर पाया गया हैं उनकों कारण बताओं नोटिस संबंधित ब्लाॅक के बीईईओ द्वारा विद्यालय के प्रधानाध्यापक को तामिल करवाने के निर्देश दिये गये हैं। जिला शिक्षा अधिकारी प्राशि, बाड़मेर पृथ्वीराज दवे ने बताया कि जिन विद्यालयों को नोटिस जारी हुए हैं उन विद्यालयों का आवश्यक रूप से संबलन द्वितीय चरण माह दिसम्बर 2013 में विद्यालय अवलोकन किया जायेगा। अगर स्थिति संतोषप्रद नहीं पायी जायेगी तो संबंधित प्रधानाध्यापक/अध्यापक के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top