तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन 

बाड़मेर। 
सरकार सेड़वा के चिकित्सालय की दुर्दषा के लिए जिम्मेदार है यह बात कमठा मजदूर युनियन के जिलाध्यक्ष लक्ष्मण वडेरा ने सेड़वा उप खण्ड मुख्यालय के आगे जन संघर्ष समिति सेड़वा चैहटन बाड़मेर के द्वारा दिये जा रहे धरने को सम्बोधित करतें हुए कही।
वडेरा ने कहा कि दो दिन पूर्व हुए बस हादसे में चार मौते तो घायलों को अस्पताल में डाॅक्टर नही मिलने से हुई । सेड़वा में पिछले चार पांच साल से डाॅक्टरों के रिक्त पदों से जनता में रोष है। घायलों के लिए 108 एम्बूलेंस की भी व्यवस्था नही है, और जननी सुरक्षा के लिए सरकार की 104 की व्यवस्था भी नही होने से जनता को कष्ट हो रहा है। सरकार जनता की तकलीफ की अनदेखी कर रही हैं, जिसे बर्दाष्त नही किया जायेगा। पुलिस थाने में सीआई का पद खाली, बैक में मैनेजर का पद खाली और स्कूल में हैडमास्टर का पद खाली व उपखण्ड कार्यालय में एसडीओं नही इस प्रकार सरकार सेड़वा की जनता की पूरी तरह अनदेखी कर जनता के साथ विष्वासघात कर रही हैं। 
वडेरा ने बताया कि सरकार की निःषुल्क दवा बिना डाॅक्टरों के बेअसर साबित हो रही हैं। पूर्व सरपंच सुबान खां ने कहा कि सेडवा के अस्पताल में डाॅक्टरों के रिक्त पदो पर नियुक्ति तुरन्त करे, जनता की यह जायज मांग हैं। जन संघर्ष समिति के अध्यक्ष बगताराम वाघेला ने कहा कि अस्पताल में डाॅक्टर नही होने से घायल सवारियां बेमौत मारी गई, जिसके लिए अस्पताल प्रषासन व जिला प्रषासन जिम्मेदार हैं। भंवार के भेराराम भील ने कहा कि सरकार जानबूझकर पिछले चार-पाच साल से सेड़वा के अस्पताल में डाॅक्टरो को नही लगा रही हैं, और जनता का षोषण हो रहा है, जनता इलाज के लिए मारी-मारी फिर रही हैं। सेडवा के मुकनाराम भील ने कहा कि महिलाओं के प्रसव के लिए अस्पताल में कोई भी व्यवस्था नही है, सारे पंखे खराब है, पानी तक की व्यवस्था नही हैं। जिसकी कड़े शब्दो में निंदा की जाती हैं। सेडवा व आसपास की जनता ने आज सेड़वा को बंद रख कर विरोध प्रदर्षन किया और पूरे सेड़वा बाजार में रैली निकालकर विरोध प्रदर्षन किया।
आम जनता ने रैली के बाद तहसील कार्यालय पहुचंकर विरोध प्रदर्षन व भारी नारे बाजी की वही सरकार के विरोध मे रोष प्रकट किया। वह मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार सेड़वा को ज्ञापन दिया जिसमें पूजांसर बस हादसे में मृतक व्यक्तियों के परिजनो को 5 लाख रूपये मुआवजा व घायलों को 1 लाख रूपये मुआवजा देने की मांग की। 
इस दौरान फजल खां, भागीरथ विष्नोई, बाबुलाल सेठ, उदयसिंह ढेम्बा, मंगलाराम फागलिया, जानू खां हरपालिया, जितेन्द्र खत्री भंवार, कादर खां शर्मा, मुकनाराम भील, साजन खां कुन्दनपुर, देवाराम दिपला, मुबीन खां शर्मा की एाणी, खबड़ खां, षंकरलाल, गफूर खां, लोगाराम उप सरपंच सेड़वा सहित कई जने उपस्थित थें। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top