24 लोगों ने मांगी इच्छामृत्यु! 
जयपुर।
राजस्थान के एक खान संचालक ने अपनी पत्नी,तीन लड़के,बहुएं और 16 पोते-पोतियों के परिवार के साथ सामूहिक इच्छामृत्यु की अनुमति मांगी है। राज्यपाल से इच्छामृत्यु की गुहार करने वाला शख्स धौलपुर के बसेड़ी के झील गांव का रहने वाला विजय सिंह है और खनन माफिया से खौफजदा है।

प्रदेश में खनन माफियाओं के खौफ और खनन विभाग के अधिकारियों की मनमानी से परेशान सिंह का पूरा परिवार पिछले 1 महीने से घर नहीं गया है। पीडित का कहना है कि वह प्रदेश में सब जगह न्याय की गुहार लगा चुका है,लेकिन उसे निराशा ही हाथ लगी है। अब उसके और परिवार के 24 जनों के पास और कोई चारा नहीं है।

पुलिस की बदले की कार्रवाई !
खनन विभाग ने पत्थर खनन के लिए चार खानें आवंटित कराईं,जिनके पट्टे विभाग ने नदी क्षेत्र में आने का हवाला देकर निरस्त कर दिए थे। इसके बाद एक अन्य खान जिसका खसरा संख्या 744/1 आवंटित करा लिया। आरोप है कि पूर्व में निरस्त की गई सिंह की खानों से एक व्यक्ति खनन कर रहा है। विभाग के अधिकारी मधुसुदन पालीवाल से मामले की शिकायत करने पर भी राहत नहीं मिली। वहीं सिंह के खिलाफ एक मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। सिंह का आरोप है कि यह भी बदले की कार्रवाई थी। 

बेटे को मारने की धमकी
मामले की मुख्य सचिव से शिकायत करने पर उन्होंने जांच दल खनन विभाग भेजा। आरोप है कि पीडित के पुत्र मोहन को जान से मारने की धमकी दे,जांच दल के सामने आरोपियों के पक्ष में बयान देने का दबाव बनाया गया। सिंह का आरोप है कि बयान के दौरान उनका पुत्र आरोपियों के कब्जे में था। परेशान विजय सिंह ने बीते गुरूवार को प्रदेश की राज्यपाल को रजिस्टर्ड डाक से पत्र भेजकर सामूहिक इच्छामृत्यु की अनुमति देने की मांग की है। 

पुलिस को जानकारी नहीं

धौलपुर पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र कुमार के अनुसार मामले की मुझे जानकारी नहीं है। इस प्रकार की यदि कोई लिखित शिकायत मिलती है तो आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top