जयपुर के युवक का अपहरण बना रहस्य 
जयपुर। 
राजधानी से अगवा एक 19 साल के युवक विक्रम का 10 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं लगा है। परिजनों का कहना है कि किसी युवक के साथ झगड़ा ही विक्रम के अपहरण का कारण बना है। जबकि,जांच में जुटी जयपुर पुलिस ने विक्रम के साथ किसी भी लड़ाई-झगड़े की घटना से इनकार किया है। विक्रम के मोबाइल की कॉल डिटेल से भी पुलिस को अभी तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। 
नाहरगढ़ थाना प्रभारी सीआई फूलचंद भास्कर ने बताया कि विक्रम के पिता कन्हैयालाल की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में एक युवक के साथ झगड़े का उल्लेख किया गया,लेकिन अभी तक इसका कोई सबूत नहीं मिला है। विक्रम के मोबाइल की कॉल डिटेल भी कोई मददगार साबित नहीं हुई। घटना वाले दिन विक्रम के मोबाइल से सिर्फ एक कॉल किया हुआ है,जो उसने अपने घर पर किया था। 

जम्मू जुड़ी हैं उम्मीद
पुलिस के अनुसार बिंदायका में विक्रम जिस युवक के साथ रहता था,वह जम्मू मूल का है। फिलहाल वह जम्मू में है और गुरूवार को जयपुर पहुंचेगा। इस मामले में उसके बयान अहम साबित हो सकते हैं और अब जांच बहुत कुछ जम्मू से आने वाले युवक के बयानों पर टिकी हुई है। 

...मां कुछ लोग मारने आए हैं
मूलत: चूरू निवासी लापता छात्र विक्रम उर्फ विक्की के पिता कन्हैयालाल के मुताबिक उनका पुत्र छह माह से जयपुर में रह रहा है। पढ़ाई के साथ वह विंदायका ओद्यौगिक क्षेत्र स्थित एक फैक्ट्री में काम भी करता था। 22 अक्टूबर दोपहर को इंस्टीट्यूट से घर के लिए निकला था,लेकिन उसके बाद आज तक घर नहीं आया। शाम को घर पर विक्रम ने फोन कर अपनी मां से इतना ही कहा था कि...मां कुछ लोग मारने आए हैं,जबकि इनका झगड़ा दूसरे लड़के से हुआ था। उसके बाद उसका मोबाइल बंद हो गया था।

यह है मामला

नाहरगढ़ थाना प्रभारी सीआई फूलचंद भास्कर ने बताया कि लापता युवक विक्रम पढ़ाई के साथ-साथ बिंदायका में चौकीदारी भी करता था। 22 अक्टूबर को वह घर से इंस्टीट्यूट के लिए निकला लेकिन इंस्टीट्यूट से वापस घर नहीं लौटा। विक्रम के पिता कन्हैयालाल की ओर से 30 अक्टूबर को अपहरण का मामला दर्ज कराया गया। परिजनों ने रिपोर्ट में लिखवाया है कि किसी युवक से विक्रम का झगड़ा हुआ था और उसके बाद से ही वह लापता है। जबकि पुलिस की शुरूआती जांच में विक्रम का किसी से झगड़ा या विवाद होने की पुष्टि नहीं हुई है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top