रिफायनरी पर कुछ नहीं बोली सोनिया 

बाड़मेर
यु पी ऐ चेयर पर्सन सोनिया गांधी का बहुप्रतीक्षित बाड़मेर दौरा थार की जनता को निराश कर गया ,सोनिया गांधी ने कोई सौगात बाड़मेर या राजस्थान की जनता को नहीं दी ,लोगो को आशा थी की सोनिया गांधी बाड़मेर में रिफायनरी लगाने की घोषणा करेगी ,मगर सोनिया गांधी ने रिफायनरी को ले कर अपने भाषण में कोई बात नहीं की राजस्थान के  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जरुर अपने उद्बोधन में कहा की जब भी रिफायनरी लगेगी बाड़मेर में ही लगेगी, थार की जनता के साथ कांगेस के पाली के सांसद बद्रीनारायण जाखड ने बताया की सोनिया से घोषनाओ की उम्मीद थी मगर निराशा हाथ लगी ,इधर बायतु से आये बुजुर्ग काना राम चौधरी ने बताया की बायतु के लीलाना में रिफायनरी की घोषणा सोनिया गांधी करेगी यह कह कर हमें सभा में लाया घ्या था मगर सोनिया ने रिफायनरी के बारे में कुछ नहीं बोला जिससे हमें निराशा हुई, बाड़मेर जिले को विशेष अकाल राहत पैकेज की भी घोषणा की उम्मीदे थी जनता को मगर इस बारे में भी सोनिया नहीं बोली ,सोनिया का भाषा बाड़मेर लिफ्ट केनाल और संसद में विपक्ष के गतिरोध पर ही केन्द्रित था ,सोनिया को सुनाने हज़ारो को तादाद में लोग कड़ी धुप के बावजूद दूर-दूर से लोग बाड़मेर पहुंचे थे ,सोनिया ने अपने बारह मिनट के भाषण में युपीऐ की योजना की भी जम कर चर्चा की ,

हाय हाय के नारे लगाए उदेलित युवाओं ने 
बाड़मेर यु पी ऐ चेयरपर्सन सोनिया गांधी की बाड़मेर में आयोजित सभा में सोनिया गांधी द्वारा रिफायनरी  की घोषणा नहीं करने से उदेलित युवाओ ने हाय हाय के नारे लगाये .सोनिया गांधी को सुनने आये बड़ी तादाद में युवा वर्ग को उम्मीद थी की सोनिया गांधी रिफायनरी की घोषणा करेगी ,भरी भीड़ और अव्यवस्थाओ को लेकर युवा लोग काफी उदेलित हो गए ,उन्होंने कार्यक्रम के बीच में ही कांग्रेस हाय हाय गहलोत हाय हाय के नारे कगाने शुरू कर दिए .
नहीं की कोई  और घोषणा
बाड़मेर यु पी ऐ चेयरपर्सन सोनिया गांधी की बाड़मेर में आयोजित सभा से पहले सोनिया गांधी द्वारा थार एक्सप्रेस के बाड़मेर ठहराव की घोषणा कर थारवासियों को तोहफा देगे लकिन ये उम्मीद भी पूरा नही कर सकी, पिछले चुनावों में कांग्रेस ने वादा किया था कि थार एक्सप्रेस का बाड़मेर में ठहराव किया जायेगा। थार एक्सप्रेस में पिश्चमी सीमा से जाने वाले लोगो के लिए अब करीबन 350 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ रहा है लेकिन सोनीया गांधी थार एक्सप्रेस को लेकर भी सोनिया गांधी ने कुछ भी नही बोला। राजस्थान की पिश्चमी सीमा पूरी तरह से से शांत है लेकिन देश की आजादी के समय से लागू कानून के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या पन्द्रह के पिश्चमी क्षेत्र को प्रतिबंधित घोषित कर दिया गया है। इस क्षेत्र मे जाने के लिए विदेशी नागरिकों को सक्षम अधिकारियों से इजाजत लेनी पड़ती है। इस कानून से बाड़मेर जिले में पर्यटन व्यवसाय की संभावनाऍ पूरी खत्म हो गई। इसको लेकर भी सोनिया गांधी ने अपने बारह मिनट के भाषण में जिक्र तक नही किया। 
थारवासियों को सोनिया गांधी इस दौरे से काफी घोषणाओं की काफी उम्मीद थी और उस उम्मीद के चलते संभाग पूरे से लोग उन घोषणा को सुनने के लिए आये, गांवगांव, से सोनिया गांधी को देखने और उनसे घोषणा की उम्मीद लिये हुए आये थे। लेकिन उन्होने कोई घोषणा न करके थारवासियों की उम्मीदों पर पानी फैर दिया। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top