बिन अंगुलियों के ही जीत लिया लेखनी का नेशनल अवॉर्ड 
Spot Light
पिट्सबर्ग, पेंसिलवेनिया (यूएस)। एनी क्लार्क की उपलब्धियों की वजह से उन्हें नेशनल पेनमैनशिप अवार्ड से नवाजा गया है। एनी को एक ट्रॉफी के अलावा एक टेक्स्टबुक पब्लिशिंग कंपनी की ओर से 1000 डॉलर का एक चेक भी दिया गया। साथ ही जेनर ब्लासर इंक की ओर से पेनमैनशिप का 'निकोलस मैक्सिम अवॉर्ड' दिया गया। यह अवॉर्ड पिछले वर्ष इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले पांचवी कक्षा के बालक निकोलस मैक्सिम के नाम रखा गया था। एनी की तरह मैक्सिम की भी हथेलियां नहीं थीं, लेकिन उसने अपनी लेखन प्रतिभा से निर्णायकों को इतना प्रभावित किया कि उन्होंने अवॉर्ड में अपाहिज बच्चों के लिए एक अलग श्रेणी बनाने का फैसला किया।
एनी को यह अवॉर्ड विल्सन क्रिश्चियन एकेडमी में दिया गया। एनी ने अपने कद से लगभग आधी ऊंचाई वाली अवॉर्ड ट्रॉफी को खुद अपने हाथों के बीच में थामा। उन्होंने दर्शकों को यह भी दिखाया कि वह अपने अविकसित हाथों के बीच पेंसिल को थाम कर कैसे लिखती है। एनी अपने पिता टॉम और मैरी एलेन क्लार्क की गोद ली हुई छह संतानों में से एक है। 
एनी की मां मैरी बताती हैं कि एनी पूरी तरह से आत्मनिर्भर है, वह खुद कपड़े पहन सकती है, खा सकती है, पी सकती है और यहां तक की सोडा की बोतल भी बड़ी आसानी से खोल लेती है। बिना अंगुलियों के ही एनी आईपॉड और कंप्यूटर का इस्तेमाल भी करती है। मैरी को उम्मीद है कि यह अवॉर्ड एनी के अंदर इस तरह आत्मविश्वास भरने में मददगार साबित होगा कि वह कुछ भी करने में सक्षम होगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top