सुपारी देकर कराई शहला की हत्या
नई दिल्ली/ भोपाल। आरटीआई कार्यकर्ता शहला मसूद की हत्याकांड में सीबीआई ने उनकी सहेली जाहिदा परवेज समेत दो को गिरफ्तार किया है। देर रात यूपी एसटीएफ ने कानपुर से शहला की हत्या में शामिल इरफान को हिरासत में लिया है। भोपाल से भी एक युवक को हिरासत में लिया है। जाहिदा ने कानपुर के शूटर को तीन लाख रूपए की सुपारी देकर शहला की हत्या करवाई थी। जाहिदा भोपाल के एमपी नगर में आर्किटेक्ट का काम करती है। सूत्रों के मुताबिक मंगलवार दोपहर को सीबीआई टीम ने एमपी नगर स्थित डिजाइनर आर्किटेक्ट स्थित दफ्तर से जाहिदा को गिरफ्तार किया। जाहिदा ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल किया है। शूटर तक पहुंचने के लिए जाहिदा ने एक अन्य व्यक्ति की मदद ली थी। उसे भी गिरफ्तार किया गया है। सीबीआई ने उसके नाम का खुलासा नहीं किया है। सीबीआई के मुताबिक शहला और जाहिदा में रंजिश चल रही थी, जिसके चलते जाहिदा ने शहला की हत्या के लिए सुपारी दी थी। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने यूपी एसटीएफ को बेकमगंज निवासी इरफान को हिरासत में लेने को कहा। इसके बाद उसे दबोच लिया गया। इरफान ने एसटीएफ को बताया कि टीलाजमालपुरा निवासी एक युवक ने उनकी गैंग के शानू बौलंगा से संपर्क किया। तीन लाख रूपए में हत्या का सौदा तय हुआ। इसके बाद वह अपने साथी शानू और सलीम के साथ भोपाल आया, जहां शानू ने शहला को गोली मारी। इरफान ने बताया कि वह टीलाजमालपुरा भी गया था। सीबीआई ने टीलाजमालपुरा के रहने वाले युवक को भी हिरासत में ले लिया है। इरफान ने भोपाल के एक बिल्डर का नाम भी लिया है। इरफान ने बताया कि शानू की करीब डेढ़ महीने पहले कानपुर में हत्या हो गई। बताया जाता है कि जाहिदा और शहला पहले दोस्त हुआ करती थीं। दोनों की कई वर्षोü तक दोस्ती रही। इसके बाद व्यक्तिगत कारणों से दोनों में विवाद हो गया।

सम्पन्न परिवार से है जाहिदा
बताया जाता है कि जाहिदा शहर के बहुत की सम्पन्न परिवार की बहू हैं। परिवार के सदस्यों के पास शहर में कई पेट्रोल पम्प हैं। कॉलेज हैं। इसके अलावा शहर के कई हिस्सों में जमीन और मकान हैं।
जाहिदा के पति से पूछताछ
इस मामले में सीबीआई ने मंगलवार शाम को जाहिदा के चौकी इमामबाड़ा स्थित घर पहुंची। यहां पर जाहिदा के पति असद से लम्बी पूछताछ की गई। इसी दौरान एक अन्य टीम जाहिदा को लेकर उसके एमपी नगर स्थित दफ्तर आई। यहां पर टीम ने कम्प्यूटर खंगाले। इसके अलावा कुछ अन्य फाईलों को भी देखा। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने जाहिदा के दफ्तर से हत्या के महत्वपूर्ण साक्ष्य बरामद किए हैं। इसके अलावा सीबीआई ने भोपाल के एक अन्य युवक को हिरासत में लिया है। बताया जाता है कि इस मामले में कई भी आरोपी है। उनकी तलाश की जा रही है।
यह है मामला
शहला मसूद की 16 अगस्त 2011 को घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया था जब शहला घर से निकल कर कार में सवार हुई थी। इस मामले में कोहेफिजा पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज किया था। 3 सितम्बर को सीबीआई की भोपाल यूनिट ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की। शहला के आरोपियों का सुराग देने वाले को पहले पांच लाख रूपए का इनाम घोषित किया गया था। बाद में इनाम की राशि बढ़ाकर दस लाख रूपए कर दी गई थी। इस मामले में सीबीआई ने सौ से ज्यादा लोगों से पूछताछ की है।
अरविंद शर्मा/ पवन वर्मा

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top