हार का ठीकरा अंपायर पर फोड़ा
सिडनी। टीम इंडिया को आस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी वनडे मैच में मिली हार के लिए भारतीय कप्तान धोनी ने अंपायर को जिम्मेदार ठहराया हैं। धोनी ने रविवार को प्रेस कांफ्रेस में कहा कि अंपायर के द्वारा दिए गए फैसलों की वजह से ही हमें नुकसान हुआ। उन्होंने कहा कि तेंदुलकर को आउट दिए जाने और डेविड हसी के खिलाफ अपील को अंपायर के द्वारा ठुकराया जाना काफी दुखद रहा।धोनी ने सचिन के आउट होने पर सवालियां निशान खड़ा करते हुए कहा कि सचिन रन आउट से निराश थे क्योकिं ब्रेट ली उनके रास्ते में खड़े थे। धोनी ने कहा कि साइमन टफेल ने सचिन को रन आउट दिया, जबकि यह फैसला बिली बोर्डेन को करना चाहिए था। क्योंकि साइमन जहां खड़े थे वहां से वह यह देखने के लिए बेहतर स्थिति में नहीं थे। मैं समझता हूं कि अंपायर बिली बोर्डेन को कुछ कहना चाहिए था क्योंकि वह यह देखने के लिए बेहतर स्थिति में थे कि गेंदबाज कहां था कि और कहां उसने बल्लेबाज को रोका।उल्लेखनीय है कि एससीजी मैदान पर रविवार को भारतीय पारी के सातवें ओवर में गौतम गंभीर ने एक रन के लिए आवाज लगाई और तेंदुलकर दौड़ पड़े। लेकिन ब्रेट ली उसी वक्त सचिन के राह में आ गए, जिसकी वजह से डेविड वार्नर ने उन्हें रन आउट कर दिया। तेंदुलकर इस तरह से रास्ता रोके जाने से काफी निराश थे। लेकिन अंपायर साइमने टफेल और बिली बोडेने ने कुछ देर चर्चा करने के बाद बल्लेबाज के खिलाफ फैसला सुनाया। धोनी ने डेविड हसी के खिलाफ "ऑब्स्ट्रçक्ंटग ऑफ द फील्ड" की अपील ठुकराए जाने को गलत बताया हैं। उन्होंने कहा कि अंपायर ने आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज को आउट न देकर गलती की। मैं समझता हूं कि डेविड वास्तव में भाग्यशाली था जो उसे आउट नहीं दिया गया। धोनी ने कहा कि मुझे नहीं पता कि हसी को आउट क्यों नहीं दिया गया। दोनों अंपायरों के कारण हमें नुकसान हुआ।
धोनी ने कहा कि फुटबॉल में यदि गेंद हाथ से लगती है तो वह पेनल्टी होता है। चाहे कुछ भी हो जाए वह पेनल्टी ही होता है। यदि ध्यान से देखा जाए तो डेविड आउट थे।
धोनी ने ब्रेट की आलोचना
भारतीय कप्तान धोनी ने आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली की आलोचना करते हुए कहा कि उन्हें सचिन के रास्ते में आने की कोई जरूरत नहीं थी। उन्होंने कहा मैं नहीं मानता कि आप इस बात को सही करार दे सकते हो कि ली पॉइंट पर फील्डिंग करना चाह रहे थे। मैं नहीं मानता कि उसे तब वहां जाने और तेंदुलकर के आगे खड़े होने की जरूरत थी। इन रन आउट पर मेरा आकलन यही हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top