भारत ने दुनिया को दिखाई ताकत 

नई दिल्ली। 63 वें गणतंत्र दिवस भारत ने दुनिया को अपनी सैन्य ताकत दिखाई। राजपथ पर आयोजित परेड के दौरान अग्नि 4 मिसाइल को प्रदर्शित किया गया। 3000 किलोमीटर तक मार करने वाली अग्नि 4 मिसाइल भारत के लिए सामरिक नजरिए से सबसे अहम हथियारों में से एक है।परेड के दौरान 150 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली प्रहार मिसाइल भी आकर्षण का केन्द्र बनी। परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम बैलिस्टिक मिसाइल प्रहार जमीन से जमीन पर मार कर सकती है। इसे डीआरडीओ ने विकसित किया है। लंबी दूरी के मानव रहित विमान रूस्तम-1 को भी प्रदर्शित किया गया। यह विमान 250 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता है। इसके अलावा रॉकेट लॉन्चर पिनाका और अत्याधुनिक जैमर ने भी भारत की सामरिक ताकत का प्रदर्शन किया। 
राष्ट्रपति ने फहराया तिरंगा
इससे राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने राजपथ पर तिरंगा फहराया। बाद में राष्ट्रपति ने परेड की सलामी ली। परेड का नेतृत्व लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार पिल्लै ने किया। समारोह की मुख्य अतिथि थाईलैंड की पीएम यंगलक शिनवात्रा थी। इससे पहले राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और रक्षा मंत्री एके एंटनी ने अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।
राज्यों की निकली झांकियां
परेड के बाद राज्यों की झांकियां निकालीं गईं। इनमें जम्मू-कश्मीर,गोवा,राजस्थान,बिहार,पश्चिम बंगाल,छत्तीसगढ़ और मेघालय की झांकियां शमिल थी। वित्त और रेल मंत्रालय की झांकियों ने भी समारोह में मौजूद लोगों को लुभाया। राजपथ पर परेड में शामिल 19 बहादुर बच्चे लोगों के आकर्षण का केंद्र बने। इन्हें जीप में बिठाकर लाया गया। पहले ये बच्चे हाथी पर बैठकर राजपथ पर आते थे लेकिन वन्य जीवों के अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहे लोगों के विरोध के बाद इस परंपरा को रोक दिया गया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top