कोई भी परिवार विद्युतीकरण से नहीं रहे वंचितः चौधरी 
बाड़मेर।
कोई भी परिवार विद्युतीकरण से वंचित नहीं रहना चाहिए। पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत 469.83 करोड़ की स्वीकृति जारी की जा चुकी है। अतिरिक्त बजट की जरूरत होने पर केन्द्र सरकार की ओर से मुहैया कराया जाएगा। बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल में जिला स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक के दौरान यह बात कही।
सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी ने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत जिले के दूर-दराज क्षेत्रांे से विद्युतीकरण का कार्य प्रारंभ किया जाए। उन्हांेने कहा कि संबंधित अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोई भी परिवार विद्युत कनेक्शन से वंचित नहीं रहना चाहिए। उन्हांेने कहा कि विद्युतीकरण का कार्य मई 2018 तक आवश्यक रूप से पूरा किया जाना है। सांसद चैधरी ने कहा कि विकास योजनाआंे का प्रभावी क्रियान्वयन करते हुए अधिकाधिक लोगांे को लाभांवित करने का प्रयास किया जाए। इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि विकास योजनाआंे की संबंधित अधिकारी नियमित रूप से मोनेटरिंग करते हुए यह सुनिश्चित करें कि केन्द्र एवं राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप कार्य हो। सतर्कता समिति की बैठक के दौरान दिए गए निर्देशांे की पालना सुनिश्चित करने के साथ आगामी रिपोर्ट मंे की गई कार्रवाई से भी अवगत कराए। समीक्षा बैठक मंे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने विकास योजनाआंे की प्रगति के संबंध मंे जानकारी दी। समीक्षा बैठक के दौरान डिस्काम के मुख्य अभियंता के.के.शाह ने बताया कि बाड़मेर जिले मंे पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत 50693 बीपीएल एवं 193141 परिवारांे को लाभांवित किया जाना है। इसके तहत 10927 ढाणियांे के साथ 13 गांवांे को विद्युतीकृत किया जाएगा। उन्हांेने बताया कि इस योजना के 11 केवी की 10101.69 किमी तथा एलटी की 11376.67 किमी विद्युत लाइनंे बिछाई जाएगी। जबकि 11/0.230 केवी के 10576 ट्रांसफार्मर स्थापित किए जाएंगे। उन्हांेने बताया कि इसके लिए टेंडर हो चुके है संबंधित फर्म को कार्यादेश जारी करने की प्रक्रिया चल रही है। इसी तरह समेकित विद्युत विकास योजना के तहत बाड़मेर शहर मंे 10.49 करोड़ तथा बालोतरा शहर के लिए 3.61 करोड़ के कार्य कराए जाने प्रस्तावित है। इस दौरान अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने आभार जताया। बैठक के दौरान जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक घनश्याम गुप्ता ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम मंे ऋण वितरण के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित ने जिला सतत एवं साक्षरता अधिकारी की ओर से साक्षरता संबंधित पुस्तकांे के क्रम मंे तथाकथित अनियमितता के साथ इस संबंध मंे आडियो होने का मामला रखा। इस पर सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी ने जिला कलक्टर को इस प्रकरण की जांच करवाकर रिपोर्ट आगामी बैठक मंे रखने को कहा। उन्हांेने कहा कि भविष्य में किसी भी प्रकार की खरीद के लिए जिला कलक्टर के साथ एक कमेटी गठित करते हुए उसकी अनुमति के बाद ही आवश्यक कार्रवाई की जाए। सांसद ने बैंक प्रतिनिधियांे संबंधित शिकायतांे का जिक्र करते हुए संबंधित बैंक अधिकारियांे को प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। समीक्षा बैठक के दौरान सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित, कल्याणपुर प्रधान हरिसिंह, चैहटन प्रधान कुंभाराम सेंवर, कोषाधिकारी जसराज चैहान, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता जे.आर.जीनगर, डिस्काम के अधीक्षण अभियंता जी.आर.सिरवी, डिस्काम के अधिशाषी अभियंता भेराराम, उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक घनश्याम गुप्ता, लीड बैंक के प्रबंधक जयप्रकाश सिंहल समेत कई विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top