जहरीली शराब दुखांतिका के मुख्य आरोपी गिरफ्तार
बाड़मेर 
जहरीलीशराब दुखांतिका के मामले में बाड़मेर पुलिस ने एक और मुख्य आरोपी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। अब तक कुल 18 से ज्यादा आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। गौरतलब है कि जहरीली शराब से जिले में 16 लोगों की मौत हो गई थी।
इसके बाद पिछले 15 दिन से जांच में जुटी पुलिस की पांच टीमें लगातार आरोपियों की तलाश में लगी हुई थी। मंगलवार को रोशन सिंह पुत्र वेणसिंह राजपूत निवासी बईया थाना झिंझनियाली जैसलमेर को गिरफ्तार किया। अभी भी गणपतसिंह पुत्र मोहनसिंह नवीन शर्मा की पुलिस को तलाश है। 
डीएसपी ओपी उज्ज्वल ने बताया कि पिछले 15 दिन से जहरीली शराब दुखांतिका के मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है। पुलिस की गठित पांच टीमों ने बाड़मेर जिले सहित कई अन्य शहरों में भी दबिश दी। पांच दिनों पुलिस रोशन सिंह की तलाश कर रही थी। मंगलवार को डीएसपी उज्ज्वल के नेतृत्व में थानाधिकारी कैलाश दान, प्रशिक्षु एसआई राजेश विश्नोई, हमीरसिंह भाटी, गिरधारीराम ने मुख्य आरोपी रोशन सिंह पुत्र वेणसिंह निवासी बईया को शिव क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। 
अबदो और की तलाश 
जहरीलीशराब प्रकरण में अभी भी पुलिस को दो आरोपियों की गिरफ्तारी करनी है। इसमें फैक्ट्री मालिक गणपतसिंह पुत्र मोहनसिंह पार्टनर नवीन शर्मा जयपुर की तलाश में पुलिस की टीमें जुटी हुई है। 
अवैध शराब का कारोबार करना स्वीकारा 
तस्कररोशन सिंह ने गणपतसिंह, मोहनसिंह और नवीन शर्मा के साथ अवैध शराब का कारोबार करना स्वीकार किया है। गौरतलब है कि महेंद्रसिंह दूधोड़ा से पूछताछ में रोशन सिंह का नाम सामने आया था। पिछले पांच दिनों आरोपी की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई थी। रोशन सिंह ने जहरीली शराब की सप्लाई महेंद्रसिंह दूधोड़ा को दी थी और महेंद्रसिंह दूधोड़ा ने विशाला और गडरारोड में खेप पहुंचाई। जहां जहरीली शराब के सेवन से 16 लोगों की जान गई, जबकि कई लोगों की आंखोें की रोशनी चली गई। 
अबतक 18 गिरफ्तार 
बाड़मेरपुलिस ने जहरीली शराब के मामले में अब तक 20 तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें गडरारोड से मिरचुमल, गणेश रमेश, विशाला से मनोहरसिंह, स्वरुपसिंह, भगसिंह, गेमरसिंह, नरेंद्रसिंह, बाबाजी का फांटा से मोहनसिंह, जलाल पुत्र मासीगाराम मेघवाल, महेंद्रसिंह दूधोड़ा, जोधपुर से देवेंद्र उर्फ देवीलाल, कुंज बिहारी अरोड़ा, मोहम्मद सरवर, दुर्जनसिंह, रोशन सिंह को गिरफ्तार किया गया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top