बाड़मेर हस्तशिल्पी कारीगरो के लिए खुशखबरी 
अब मिलेगा आनलाईन प्लेटफार्म
बाड़मेर 
जिले मे हस्तषिल्पी कारीगरो की कारीगरी पूरे विष्व मे मषहुर है। अब इस उत्कृृष्ट कला को मिलेगा पूरे विष्व मे बेचने का मौका वो भी ई-कॅॅार्मस के माध्यम से । इसी कड़ी मे इंडिकार्ट के प्रतिनिधियेा द्वारा बाड़मेर जिले मे कई जगह गांव ढाणी कस्बो मे एक अध्यन किया गया । इस परंपरागत हस्तषिल्प मे कारीगरो की आर्थिक स्थ्तिि आज के इस वर्तमान युग मे इतनी सम्रद्व नही है जितनी की होनी चाहिए। इन कारीगरो को आगे बढाने व इनकी क्षमता वर्धन तथा आर्थिक रूप से सुद्रढ करने के सम्बन्ध मे चर्चा की गई। इस अध्यन व चर्चा के निष्कर्ष स्वरूप निकाला कि जिला स्तर पर हस्तषिल्पी कारीगरो को एवं उनके हितधारकेा को एक साथ बेठकर विस्तृत चर्चा करनी चाहिए। इस बैठक मे कारीगरांे कि दषा सुधारने के लिए व उनको अपनी कारीगरी का उचित मुल्य व प्रोत्साहन हेतु सीधे ग्राहक व कारीगरो को मिलाने प्रयास किए जाऐ। इंडिकार्ट एक ऐसा ही आनलाईन व्रहद बाजार का हिस्सा है। जो कि इन कारीगरो को उचित मुल्य व प्रोत्साहन दिला सकता है। यह भारतीय ई-कार्मस कम्पनी है। जो कि देष के विभिन्न राज्यो के कारीगरो को आगे लाने की योजना रखती है। इसी संदर्भ मे इंडिकार्ट द्वारा इसी माह में एक कार्यषाला का आयोजन किया जायेगा। जिसमे बाड़मेर जिला स्तर पर कारीगरो को ई-कॅार्मस के माध्यम से अपनी कारीगरी को आगे बढाने व उनकी क्षमतावर्धन के साथ उनके हितधारको के द्वारा उनको प्रोत्साहित किया जाएगा। इस कार्यषाला मे भाग लेने के लिए कोई भी हस्तषिल्पी अपना रजिस्ट्रेषन दिए गये मोबाईल नम्बरो पर करा सकते है। तथा निःषुल्क कार्यषाला के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते है। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top