- बाड़मेर विधायक ने की पहली आरती 
- अगले दस दिन होंगे कई आयोजन 
बाड़मेर 
विघ्नहर्ता गणेश जी के स्वागत के लिए थार नगरी बाड़मेर पूरी तरह से तैयार नजर आई । जिले भर की तरह शहर मे तक़रीबन 100 से अधिक जगहों पर गणेश पंडालों की स्थापना हुई। शुक्रवार को शहर मे गणपति बप्पा ढोल-ताशों के बीच धूमधाम से विराजे।शहर के आजाद चौक मे गणपति की स्थापना शुक्रवार प्रातः हो गई है। स्थापना से पहले शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई। अब अगले 10 दिनों तक शहर आस्था के रंग में रंगा रहेगा और विभिन्न पंडालों मे कई आयोजन किये जाएंगे।बाड़मेर में सबसे पहले आजाद चौक मे दस साल पहले गणपति की स्थापना हुई थी। इसी जगह शुक्रवार को सुबह 11 बजकर 16 मिनट पर गणपति स्थापना हुई। स्थापना के बाद पहली आरती बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन के हाथों की गई। उनके साथ वृताधिकारी एससी एसटी सेल ओम प्रकाश उज्ज्वल , बाड़मेर कोतवाल कैलास चंद मीणा और समाज सेवी माधो सिंह राजपुरोहित आरती में शिरकत की।आरती से पूर्व आयोजन मे आये अतिथियों का आजाद युवा ग्रुप सदस्यों द्वारा स्वागत किया गया और अतिथियों को आजाद युवा ग्रुप के बीते दस साल के आयोजनो के बारे मे बताया गया। आजाद युवा ग्रुप ने बताया की दस सालो के गणपति आयोेजन मे आजाद चौक ने न केवल हजारो लोगो का साथ लिया बल्कि हर कोम के लोग आजाद युवा ग्रुप से जुड़ें हुए है। बाड़मेर का यह इकलौता ऐसा मंडल है जिसमे सम्प्रदायक सौहार्द की मिशाल है। इससे पूर्व शुक्रवार से शुरू हो रहे गणपति उत्सव की शुरुआत के लिए गुरुवार को गणपति प्रतिमाओं की खरीददारी के लिए मूर्ति विक्रेताओ की दुकानों पर भीड़ उमड़ी। हाईकोर्ट के तालाबों में प्रतिमाओं के विसर्जन पर रोक लगाने के बाद लोगों ने मिट्टी की प्रतिमाएं खरीदना पसंद किया। वहीं, प्लास्टर ऑफ पेरिस से बनीं प्रतिमाएं कम बिकीं। भक्तों ने बड़ी की जगह छोटी मूर्तियां खरीदने को प्राथमिकता दी। उन्होंने गणपति की गाय, मोर, हंस और सिंहासन पर विराजमान प्रतिमाएं खरीदना पसंद किया।थार नगरी में छोटी व बड़ी प्रतिमाएं मिलाकर घरों व पंडालों में तकरीबन 1 हजार प्रतिमाओं की स्थापना की जाएगी। इससे अगले 10 दिन तक शहर भगवान गणेश की भक्ति के रंग में रंगा नजर आए।
अनंत चतुर्दशी को होगा विसर्जन
गणेश चतुर्थी से अनंत चतुर्दशी तक श्रद्धालु गणपति की आराधना करते हैं। ब्रह्मा मुहूर्त में पूजन और शाम को आरती करने का विधान है। पांच, सात या 11 दिन का उत्सव मनाया जाता है। इस बार अनंत चतुर्दशी आठ सितंबर को है। इस दिन आजाद चौक मंडल द्वारा भगवान गणपति की प्रतिमाओं का विसर्जन गोधूलि संध्या में किया जा सकेगा। वहीं, पांच दिन के लिए प्रतिमाओं की स्थापना करने वाले 2 सितंबर को 4 बजकर 35 मिनट के बाद और सात दिन के लिए प्रतिमाओं की स्थापना करने वाले भक्त 4 अगस्त को सूर्यास्त के बाद प्रतिमाओं का विसर्जन कर सकेंगे।
ग्रीन गणेशा के बाद इको फेंडली गणेशा 
देश भर की ही तरह रेतीले बाड़मेर में भी दस दिवशीय गणेश महोत्सव का आगाज शुक्रवार की रोज गाजे बजे के साथ हुआ। लेकिन इस आयोजन में आजाद युवा ग्रुप ने एक अनूठे अभियान की भी शुरुवात की। आजाद युवा ग्रुप के सत्यनारायण सोनी ने बताया की देश जहा आगामी दस दिनों तक विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा अर्चना करेगा वही बाड़मेर में यह दस दिन कुदरत को सहेजने का सन्देश पूजा आयोजन के साथ साथ दिए जाएँगे जिसकी शुरुवात स्थानीय आजाद चोक स्थित आजाद युवा ग्रुप के गणपति आयोजन में बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने की। इस मोके पर बाड़मेर विधायक ने कहा की जिन आयोजनों में लोगो की धार्मिक भावनाए जुडी होती है ऐसे उत्सवो में पर्यावरण के सरक्षण की बात करने की शुरुवात करना आपने आप में ख़ास रहता है।ऐसे मे बीते साल ग्रीन गणेशा केमेपेनिग ख़ास रही थी तो इस बार आजाद युवा ग्रुप नए इको फ्रेंडली गणेशा के शुरुवात की है जो की विशेस है पर्यावरण को बचाने की बात को पूजा और धार्मिक आयोजन से जोड़ना सार्थक पहल है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top