विकास में नई पहचान बना रहा है प्रतापगढ़
प्रतापगढ़, 
जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री नंदलाल मीणा ने प्रतापगढ़ के बहुआयामी विकास की रफ्तार को और अधिक तेज करने तथा जनसुविधाओं एवं सेवाओं के व्यापक विस्तार के लिए समर्पित भागीदारी का आह्वान किया है और कहा है कि नगर परिषद के प्रयासों से आज प्रतापगढ़ विकास की दिशा में नई पहचान बनाने लगा है।
जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री नंदलाल मीणा ने बुधवार को दशहरा मैदान में नगर परिषद द्वारा नवनिर्मित अटल रंगमंच के उदघाटन समारोह में यह आह्वान किया। केबिनेट मंत्री नंदलाल मीणा ने मौली की ग्रंथि खोलकर रंगमंच का लोकार्पण किया तथा लोकार्पण पट्टिका का अनावरण किया।
समारोह में जिलाप्रमुख बद्रीलाल पाटीदार, नगर परिषद के सभापति कमलेश डोसी, उप सभापति रमेश मीणा, आयुक्त अशोक जैन, पूर्व नगरपालिकाध्यक्ष पुष्पा मेहता, पारसमल जैन, शांतिलाल डोसी, समाजसेवी धनराज शर्मा, पिंकेश पोरवाल, प्रेममोहन सोमानी, नगर परिषद के पार्षदगण, गणमान्य नागरिक आदि उपस्थित थे।

व्यापकता पा चुका है महाशिवरात्रि मेला

इस अवसर पर अपने उद्बोधन में जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री नंदलाल मीणा ने महाशिवरात्रि मेले को लेकर नगर परिषद द्वारा की गई तैयारियों की सराहना की और कहा कि परिषद के प्रयासों से अब यह मेला सिर्फ प्रतापगढ़ तक सीमित नहीं रहा बल्कि आस-पास के समूचे क्षेत्र तक व्यापकता तथा लोकप्रियता पा चुका है और इसमें जन भागीदारी का उत्तरोत्तर विस्तार होता जा रहा है।

मेला क्षेत्र विकास के भरपूर प्रयास होंगे

उन्होंने शिवरात्रि मेले के विकास को देखते हुए नगर परिषद से कहा कि दशहरा मेला मैदान के विकास एवं विस्तार तथा लोक सुविधाओं की व्यापक संभावनाओं को देखते हुए इस बारे में सुझाव दें ताकि जनजाति क्षेत्रीय विकास मद में प्रस्ताव लिए जाकर मेला क्षेत्र का अपेक्षित एवं अत्याधुनिक विकास किया जा सके। मीणा ने कहा कि शिवरात्रि मेले को इस प्रकार भव्य और व्यापक स्वरूप दिया जाए कि नई सौगात के रूप में इन विकास कार्यों को हमेशा याद रखा जाए।

गुरुवार से शुरू होगा चार दिवसीय मेला

आरंभ में स्वागत भाषण प्रस्तुत करते हुए नगर परिषद के सभापति कमलेश डोसी ने केबिनेट मंत्री नंदलाल मीणा सहित तमाम अतिथियों का स्वागत किया तथा नगर परिषद द्वारा प्रतापगढ़ के विकास के लिए किए जा रहे बहुआयामी प्रयासों पर प्रकाश डाला। उन्होंने गुरुवार से शुरू हो रहे 38वें चार दिवसीय महाशिवरात्रि मेले को लेकर नगर परिषद द्वारा की जा रही तैयारियों पर जानकारी दी और बताया कि अब यह क्षेत्र भर का अपना प्रमुख मेला बन चुका है।

समारोह का संचालन ओजस्वी मंच संचालक सुधीर वोरा ने किया। जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री ने बाद में महाशिवरात्रि मेले को लेकर दशहरा मैदान पर चल रही तैयारियोें का अवलोकन किया तथा मेले की तमाम व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने व मेलार्थियों की सुविधाओं पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top