केजरीवाल की प्रेस कांफ्रेस में उछले जूते 

नई दिल्ली। अरविंद केजरीवाल ने इस बार मशहूर उद्योगपति और रियायंस इंडस्ट्री के मुकेश अंबानी को निशाने पर लिया। केजरीवाल का कहना है कि भाजपा और कांग्रेस दोनों मुकेश अंबानी की जेब में हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई के लिए उद्योगपति और राजनेता जिम्मेदार हैं। 
केजरीवाल जब अंबानी पर आरोप लगा रहे थे इसी दौरान उनकी प्रेस कांफ्रेंस में हंगामा हो गया। यह हंगामा सवाल पूछने की बात को लेकर हुआ। हुआ यूं कि केजरीवाल प्रेस कांफ्रेंस खत्म कर उठने लगे। उधर सवाल पूछे जाने का सिलसिला जारी रहा। इसी बात को लेकर वहां मारपीट की नौबत आ गई। खफा होकर वहां मौजूद कुछ लोगों ने केजरीवाल की तरफ जूते भी उछाले।
उधर, केजरीवाल और उनकी टीम ने लॉबिस्ट नीरा राडिया के दो ऑडियो टेप सुनाए। टेप में नीरा राडिया और रंजन भट्टाचार्य की बातचीत रिकॉर्ड है। रंजन और राडिया मंत्रालयों को लेकर चर्चा कर रहे थे। रंजन भट्टाचार्य एनडीए सरकार के वक्त सुर्खियों में आए थे। वे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के दामाद हैं। केजरीवाल का कहना है कि मुकेश अंबानी ने कहा था कि कांग्रेस मेरी जेब में है। उनकी यह बात बिल्कुल सही है। देश प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह नहीं बल्कि मुकेश अंबानी चला रहे हैं। 2000 में एनडीए की सरकार ने अंबानी की कंपनी को फायदा पहुंचाया था। सरकार को ब्लैकमेल करने के लिए अंबानी की कंपनी ने गैस के दाम कम रखे। 
गैस के दाम बढ़ाने के लिए जयपाल रेड्डी की जगह वीरप्पा मोईली को पेट्रोलियम मंत्री बनाया गया है। 2007 में तत्कालीन वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने आरआईएल को फायदा पहुंचाया था। रियायंस को फायदा पहुंचाने के लिए मणि शंकर अय्यर को हटाकर मुरली देवड़ा को पेट्रोलियम मंत्री बनाया गयारॉबर्ट वाड्रा और नितिन गडकरी के बाद उनका यह तीसरा खुलासा है। जब से केजरीवाल ने राजनीति में उतरने का फैसला किया है तब से वह भ्रष्टाचार के कई मामलों को सामने ला चुके हैं। इंडिया अगेंस्ट करप्शन के बैनर तले अभी तक महाराष्ट्र सिंचाई घोटाला,रॉबर्ट वाड्रा-डीएलएफ डीलए डील,और भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी को लेकर खुलासे किए गए हैं। केजरीवाल की टीम के सदस्यों पर भी कुछ संगीन आरोप लगे थे जिनकी जांच केजरीवाल ने आंतरिक लोकपाल से कराने का ऎलान किया है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top