जयपुर में नरेगाकर्मियों ने डाला महापड़ाव 

जयपुर। 
राजस्थान में विभिन्न मांगों को लेकर नरेगा संविदा कार्मिकों ने शुक्रवार को राजधानी जयपुर में महापड़ाव डाला। पंचायतीराज में पूर्णरूपेण समायोजन के साथ अन्य मांगों को लेकर हजारों महिला-पुरूष यहां उद्योग मैदान पर शाम 5 बजे तक डटे रहे। अपनी मांगे मनवाने के लिए इसी महापड़ाव में आगामी आंदोलन की रणनीति भी तय की गई। 

"राजस्थान महात्मा गांधी नरेगा संविदा कार्मिक संघ" की अगुवाई में इस पड़ाव में प्रदेश भर से महिला-पुरूष जयपुर पहुंचे। संघ के प्रदेशाध्यक्ष अशोक वैष्णव के अनुसार अपने भविष्य की चिंता और राज्य सरकार की गैरजिम्मेदाराना नीतियों के विराध में संविदाकर्मियों को मजबूरन महापड़ाव पर बैठना पड़ा।


यह मांगे है नरेगा संविदा कार्मिकों की

1. सविंदा कार्मिकों को स्क्रीनिंग एवं समायोजन नीति के तहत शैक्षणिक एवं कार्यानुभव के आधार पर पंचायतीराज में पूर्णरूपेण सामायोजित किया जाए।
2. पंचायत विभाग में नवसृजित पदों में जिला स्तर पर समाप्त पदों के समान कैडर पद सृजित किए जाए।
3. पंचायत विभाग में नवसृजित पदों में कनिष्ठ लेखाकार के पदों में वर्तमान में कार्यरत लेखा सहायकों की गणना के अनुसार पद सृजन किए जाए।
4. 15/02/2012 और 28/02/2011 के समझौते पूरी तरह से लागू किए जाएं।
5. पांच दिवसीय कार्य सप्ताह किया जाए।
6. नरेगा कार्मिकों के वित्तिय प्रकरणों का निस्तारण किया जाए।
7. नरेगा कार्मिकों के लम्बित सेवा प्रकरणों का शिविर लगाकर निस्तारण किया जाए।
8. पूर्व में हुए आंदोलनों के तहत नरेगा कार्मिकों पद दर्ज मुकदामों को वापस लिया जाए।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top