"पाक में कंट्रोल रूम चला रहा था जिंदाल" 
नई दिल्ली।
केन्द्रीय गृहमंत्री पी.चिदम्बरम ने मुम्बई के 26/11 के हमले के सिलसिले में अबू जिंदाल की एक बड़ी उपलब्धि बताते हुए कहा है कि पाकिस्तान को अब यह स्वीकार कर लेना चाहिए कि जिंदाल उसके यहां रह कर हमले को अंजाम देने के लिए कंट्रोल रूम चला रहा था और बिना किसी देश की मदद के ऎसा कंट्रोल रूम नहीं चलाया जा सकता। चिदम्बरम ने शुक्रवार को यहां अपने मासिक नियमित प्रेस ब्रीफिंग में एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक का यह कहना सही है कि अब जिंदाल भारतीय है और यहीं उनका कट्टरवादी रूझान बना पर पाकिस्तान को भी यह बात स्वीकार कर लेनी चाहिए कि जिंदाल वहां गया और 26/11 के हमले के योजनाकार के रूप में वह वहां कंट्रोल रूम चला रहा था। उसने ही कसाब समेत दस आतंककारियों को प्रशिक्षित किया था। यह पूछे जाने पर कि क्या इससे यह माना जाए कि इस हमले में पाकिस्तान की सीधी भागीदारी है। 
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जिंदाल के लिए एक सुरक्षित अड्डा था और स्टेट एक्टर्स (सरकारी एजेंसी) की मदद के बिना वह कंट्रोल रूम नहीं बन सकता था। उन्होंने कहा कि एक बार जांच पूरी हो जाए तो वह यह निश्चित तौर पर कह सकते हैं कि स्टेट एक्टर कौन है। उन्होंने यह भी कहा कि जिंदाल का हाथ महाराष्ट्र के औरंगाबाद हमले तथा पुणे जर्मन बेकरी कांड में भी था और भविष्य में समय आने पर वह मुंबई तथा गुजरात पुलिस को भी सौंपा जाएगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top