सेवा करना चाहते हैं राहुल गाधी
 कानपुर। कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के रात बारह बजे प्रधानमंत्री बनने के बयान के बारे में सफाई देते हुए केंद्रीय कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा कि राहुल गाधी देश और प्रदेश की सेवा करना चाहते हैं। उन्हें न तो प्रधानमंत्री और न ही मुख्यमंत्री का पद चाहिए।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का सवाल है तो वह देश को अच्छे ढंग से चला रहे हैं और काग्रेस पार्टी उनसे पूरी तरह संतुष्ट है। वह प्रधानमंत्री हैं और प्रधानमंत्री रहेंगे।गौरतलब है कि कल वृंदावन में एक जनसभा में श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा था कि राहुल गांधी चाहें तो रात को 12 बजे प्रधानमंत्री बन सकते हैं। लेकिन उन्हें इस पद का मोह नहीं है रविवार को वह अपने दिए बयान से पलट गए। उन्होंने कहा लोगों ने इसका गलत मतलब निकाला है। सभी मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री बने रहने से खुश हैं। उन्होंने कहा कि जिन विपरीत परिस्थितियों में मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री के रूप में देश को संभाला है वह काबिले तारीफ है। उन्होंने साफ किया कि काग्रेस पार्टी के साथ साथ पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा महासचिव राहुल गाधी उनके काम से पूरी तरह संतुष्ट हैं। वह प्रधानमंत्री हैं और प्रधानमंत्री रहेंगे। उन्होने कहा कि पार्टी में मनमोहन सिंह से बेहतर कोई नेता नहीं है जो इस समय देश का इतनाच्अच्छे ढंग से संचालन कर सके। पार्टी चाहती है कि मनमोहन इसी कुशल तरीके से देश का नेतृत्व करते रहें। जहा तक राहुल गाधी का सवाल है तो वह उत्तर प्रदेश और देश की सेवा करना चाहते हैं। उन्हें प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री पद की कोई चाहत नहीं है और न ही वह कोई पद पाने के लिए देश और प्रदेश की सेवा कर रहे हैं।राहुल प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री बनने के लिए प्रयासरत भी नहीं हैं। वह तो इस समय केवल 22 साल से बदहाली में जी रहे उत्तर प्रदेश में काग्रेस की सरकार लाकर यहा विकास कराना चाहते हैं। वह लगातार इसी प्रयास में लगे भी हुए हैं।उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद भी राहुल गांधी खुद तय करेंगे की वह प्रधानमंत्री बनेंगे या नहीं। यह पूछे जाने पर कि अगर वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद भी काग्रेस सत्ता में आती है तो क्या मनमोहन ही प्रधानमंत्री होंगे , इस पर उन्होंने कहा कि वह नहीं जानते है कि 2014 के लोकसभा चुनावों के बाद कौन प्रधानमंत्री बनेगा।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top