बाड़मेर राजनैतिक दुर्भावना से रोकी जा रही है पेयजल सप्लाई
विधानसभा क्षैत्र बाड़मेर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विशाल धरना एवं प्रदर्शन ,हजारों की संख्या में पहुॅचे लोग ,विधायक जैन के नेतृत्व में हुआ विरोध प्रदर्शन ।
बाड़मेर 
बाड़मेर विधानसभा क्षैत्र में कुल 1500 हैण्डपंपों में से 900 हैण्डपंप पिछले 5 साल में खुदवा दिये जो भाजपा नेताओं को अखर गये और उन्होने खराब हैण्डपंपों को दुरस्त करना उचित नही समझा। जिस प्रकार जिला परिषद में विभाग के अधिकारी द्वारा जो गैर जिम्मेदाराना बयान दिये गये यह इनकी सोच को दर्शाता है।यह बात अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं पूर्व सांसद हरीश चैधरी ने जिला मुख्यालय पर आयोजित विशाल धरने एवं प्रदर्शन में कही। उन्होने कहा कि अच्छे दिन लाने की बात कहकर प्रदेश और केन्द्र में सता में भाजपा की सरकारें आम आदमी के लिए मुसीबत बन गई है। किसानों की कीमती जमीन पूजीपतियों को देने के लिए केन्द्र सरकार आमादा है।यह सरकार आम आदमी की नही अंडाणी अम्बानी की सरकार है। उन्होने कहा कि आज के धरने ने यह साबित कर दिया कि अब आम आदमी चुप बैठने वाला नही है। बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन अपने लिए संघर्ष नही कर रहे है यह आम आदमी के लिए संघर्ष कर रहे है।पेयजल के मामले में राजनीति हो रही है।उन्होने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के समय बाड़मेर में पेयजल समस्या के समाधान के लिए स्वीकृत हुए लेकिन इस सरकार ने उन योजनाओं को बंद करने का कार्य किया।15 लाख रोजगार देने का वादा करने वाली भाजपा सरकार ने रोजगार देना तो दूर मनरेगा ,विधार्थी मित्र सहित कई हजार युवाओं को नोकरी से निकाल दिया।उन्होने कहा कि हम सब कांग्रेसी नेता आपके साथ है।मजबूती के साथ संघर्ष कर रहे है।जिले में पानी के लिए मौत हो जाये यह सरकार के लिए शर्म की बात है। जिले के अधिकारी मौन बैठे है। जनता को इनकी कोई परवाह नही है। आज इस प्रदर्शन के माध्यम से आगाह करना चाहते है कि समय रहते व्यवस्था सुधार लो वरना जनता सड़क पर उतरेगी।
धरने को संबोधित करते हुए बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि पिछले तीन महिनों से जिला प्रशासन को क्षैत्र में पेयजल की समस्या से अवगत करा रहा हूॅ लेकिन प्रशासन सुस्त है।जिले मंें अकाल एवं सूखे के विकट हालात के चलते गौवंश की अकाल मौते हो रही है। मैने इस मुददे को विधानसभा में भी उठाया ,प्रशासन के सामने रखा लेकिन कोई समाधान नही निकाला गया। प्रशासन ने जो पशु शिविरों के लिए गाइडलाइन जारी की है इससे इनकी नियत का पता चलता है।ग्राम पंचायतों से शपथ पत्र मांगा जा रहा है।

खराब हैण्डपंपो का मुद्दा क्या उठाया.......इस्तीफा मांग लिया - अच्छा होता भाजपा नेता एक अधिकारी की पैरवी नही कर आम जनता की पैरवी करती और खराब हैण्डपंपों को दुरस्त करने हेतू अधिकारियों को कहती लेकिन उल्टा मेरे पर ही सवाल उठाये। अधिकारी ने तो मेरे से इस्तीफा तक मांग लिया । जिस प्रकार जिला परिषद की बैठक में जलदाय के जिम्मेदार अधिकारी द्वारा यह कहना कि खराब हैण्डपंपों की संख्या 100 से कम है। यह जिले के सबसे बड़े सदन का अपमान था। विधायक जैन ने धरने में शामिल आम जनता से यह सवाल पूछा कि आपके हैण्डपंप खराब है तो हाथ खड़े करे इस पर पूरी भीड़ ने जमकर नारे लगाये और क्षैत्र में सैकड़ों की संख्या में खराब हेैण्डपंपो एवं हौदियों की बात कही।उन्होने कहा कि मैने जिला प्रशासन को 350 खराब हैण्डंपपों की सूची दी है लेकिन अभी तक इस पर कोई ठोस कार्यवाही नही हो रही है। जनता प्यासे मर रही है बाड़मेर शहर में सप्लाई नही की जा रही है जबकि अधिकारीयों की शह पर अवैध पानी के टेेंकर भरवाये जा रहे है।पूर्ववर्ती सरकार द्वारा शुरू की गई पेयजल योजनाओं को जानबूझकर डेढ़ साल से रोका जा रहा है।अगर सरकार की नियत साफ होती तो बाड़मेर चवा खरण्टिया योजना से आज इन गाॅवो में पानी पहुॅच गया होता लेकिन जानबूझकर इस योजना का कार्य मंथर गति से किया जा रहा है।

गरीबों को गेहूॅ से वंचित किया जा रहा है 
-पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने देश की गरीब जनता को भोजन का अधिकार दिया ,लेकिन राजस्थान की वर्तमान सरकार ने इन गरीबों का गेहॅू बंद कर कू्रर मजाक किया है। खाद्य सुरक्षा योजना के तहत सरकार द्वारा जानबूझकर हजारों गरीब परिवारों को इस योजना से वंचित कर दिया। धरने में भारी संख्या में शामिल महिलाओं ने सरकार के खिलाफ गेहूॅ से वंचित रखने पर नारेबाजी की।

स्थानीय लोगो को रोजगार नही दे रही है कम्पनियाॅ..
 विधायक जैन ने भादरेश में निजी कम्पनी द्वारा स्थानीय लोगो को रोजगार नही देने की बात उठाते हुए कहा कि भूमि अवाप्ति के समय किसान से मीठी बातें कर रोजगार देने की बात कही लेकिन आज कम्पनी अपने वादे पर खरा नही उतर रही है।उन्होने कम्पनियों को चेताया कि प्लांट में स्थानीय लोगो को प्राथमिकता से रोजगार दे अन्यथा क्षैत्र की जनता प्लाण्ट के आगे धरने पर बैठेगी।

धरने को जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल,जिलाध्यक्ष फतेहखाॅ,प्रधान पुष्पा चैधरी ,मृदुरेखा चैधरी,सभापति लूणकरण जैन,मूलाराम मेघवाल,श्रवण चंदेल,मौल्वी हनीफ,मुकनाराम गोरसिया,खरथाराम गोदारा,गोपालसिंह राजपुरोहित,तनसिंह महाबार,महेश सियाग,सोनाराम टाक,प्रागाराम सुथार,महेश सियाग सहित कई लोगो ने संबोधित किया।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top