शिशु का पहला टीकाकरण माँ द्वारा स्तनपान - डॉ चौधरी
बाड़मेर 
इंडियन अकादमी ऑफ़ पीडियाट्रिक्स शाखा बाड़मेर, केयर्न इंडिया ,हेल्प एज इंडिया एवं लायंस क्लब ckMesj के संयुक्त तत्वाधान में विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत आयोजित होने वाले जागरूकता कार्यक्रम में आज राजकीय कन्या सीनियर स्कूल बायतू की छात्राओ को संबोधित करते हुए डॉ महेंद्र चौधरी ने कहा की स्तनपान ही शिशु के सम्पूर्ण स्वास्थ्य की असली कुंजी हे,यही वास्तव में प्राकृतिक तरीके से शिशु को विभिन्न बीमारियों से बचाता हे जिसके लिए माँ द्वारा स्तनपान को शिशु को पहले टीकाकरण की संज्ञा दी जाती हे.
बालिकाओ से मुखातिब होते हुए डॉ य चौधरी ने कहा की पहले एक स्तन से पूरा दूध पिलाने के बाद हे दुसरे स्तन से दूध पिलाना चाहिए.थोड़े थोड़े अन्तराल में स्तनों के परिवर्तन से बच्चा केवल दूध का पानी वाला भाग ही पी पता हे एवं भूखा रह जाता हे.क्युकी प्रारंभ के पांच मिनट तक पानी के अधिकंश्ता वाला दूध आता हे उसके बाद वसा युक्त पौष्टिक दूध का स्राव होता हे.बच्चे को कभी भी डिब्बाबंद पूरक आहार नहीं देना चाहिए और न ही बोतल से दूध पिलाना चाहिए.केवल और केवल माँ का दूध हे बच्चे लिए सर्वोत्तम आहार हे. गाय या बकरी का दूध ज्यादा फायदेमंद नहीं होता हे.बच्चे के संपूर्ण स्वास्थ्य एवं मस्तिस्क विकास के लिए माँ का दूध सबसे बढ़िया हे साथ हे यह शुद्ध,ताज़ा,मिलावट रहित,हर समय उपलब्ध रहता हे.यहाँ प्रकृति के द्वारा दिया गया एक अनमोल वरदान सभी स्तनधारी जीवो को दिया गया हे.
स्तनपान से सम्बंधित प्रस्नोत्री का आयोजान डॉ सुरेन्द्र सिंह सियोल ने किया जिसमे इमियो, प्रियंका, पायल, निर्मला, मनीषा, ज्योति, सुमन, तारो,को व्याख्याता श्रीमती भंवरी मेवाडा एवं श्रीमती कंचन गुप्ता ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया.कार्यक्रम में विद्यालय की शिक्षिकाए श्रीमती धापू चौधरी,श्रीमती मंजू चौधरी, श्रीमती प्यारी चौधरी, श्रीमती सुमित्रा, श्रीमती सविता, श्रीमती सीमा, श्रीमती नीतेश, श्रीमती तुलसी ,श्री मघाराम ,श्री खगेन्द्र जी सहित सेकड़ो बालिकाए उपस्थित थी.मंच का सन्चालन डॉ सुरेन्द्र सिंह सियोल ने किया.
मिलिट्री हॉस्पिटल जलिपा में डॉ पंकज अग्रवाल ने जालिपा आर्मी एरिया में निवास करने वाले परिवारों की माताओ को स्तनपान के सुरक्षित तरीके ,स्तनपान के फायदे,शिशु को होने वाले विभिन्न प्रकार के रोगों में माँ का दूध कितना लाभकारी हे, स्तनपान से सम्बंधित भ्रांतियों पर प्रकाश डालते हुए कहा की यह स्तनपान ही शिशु का संपूर्ण रक्षक हे.यही जीवनदायक हे.कार्यक्रम में क्विज प्रतियोगिता में विजेता श्रीमती मंजू व श्रीमती बबिता को पुरस्कार प्रदान किया गया.

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top